इस मामले में मध्यप्रदेश का ये क्रिकेटर है सबसे आगे: उमेश, इशांत को भी छोड़ा पीछे, जानिए कौन है ये खिलाड़ी

रायपुर- रणजी ट्रॉफी के सीजन 2017/18 का नया चैंपियन विदर्भ बना। फाइनल मैच में विदर्भ की टीम ने दिल्ली को बड़ी आसानी से हरा दिया। इस पूरे सीजन में कई युवा गेंदबाज उभरकर सामने आए, तो कई यंग बल्लेबाज भी देखने को मिले। जिन्होंने अपनी बल्लेबाजी से कमाल किया। हर घरेलू सीजन की तरह इस सीजन में भी इंडियन क्रिकेट को बहुत कुछ मिला। नए-नए टैलेंट उभरकर सामने आए।
इस मामले में जलज हैं सबसे आगे
जलज सक्सेना रहने वाले मध्यप्रदेश इंदौर के हैं, मध्यप्रदेश की टीम से कई मैच भी खेल चुके हैं। लेकिन रणजी ट्रॉफी के इस सीजन में केरला की टीम से खेल रहे थे। जहां उन्होंने कमाल का प्रदर्शन किया है। ऐसा प्रदर्शन जो उन्हें उमेश, इशांत, पीयूष चावला जैसे दिग्गज गेंदबाजों से भी आगे कर दिया। दरअसल जलज सक्सेना ने इस रणजी सीजन में सबसे ज्यादा 44 विकेट अपने नाम किए हैं। ये कमाल जलज ने महज 7 मैच में किया है। 85 रन देकर 8 विकेट इनका पारी में बेस्ट रहा है।
इस रणजी सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में विदर्भ के रजनीश गुरबानी दूसरे नंबर पर हैं। गुरबानी ने 6 मैच खेलते हुए 39 विकेट झटके हैं।
तीसरे नंबर पर बंगाल के अशोक डिंडा हैं, डिंडा ने 8 मैच में 35 विकेट अपने नाम किए हैं।
बल्लेबाजों में मयंक अगरवाल सबसे आगे
इस रणजी सीजन में मयंक अगरवाल ने कमाल की बल्लेबाजी की है। कर्नाटका से खेलते हुए मयंक अगरवाल ने सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। और रणजी सीजन 2017/18 में टॉप स्कोरर हैं। मयंक अगरवाल ने 8 मैच में 105.45 की शानदार औसत से 1160 रन बनाए हैं। जिसमें 5 शतक लगाए हैं।


रन बनाने के मामले में दूसरे नंबर पर विदर्भ के फैज फजल हैं। फैज ने 9 मैच में 70.15 की औसत से 912 रन बनाए हैं।
तो वहीं तीसरे नंबर पर भी विदर्भ के बल्लेबाज संजय रामास्वामी हैं। संजय रामास्वामी ने 9 मैच 64.58 की औसत से 775 रन बनाए हैं।

Related Articles

Back to top button