तालिबान से RSS की तुलना करने पर फंसे गीतकार Javed Akhtar, मुंबई में दर्ज हुआ एफआईआर

मुंबई. मशहुर गीतकार Javed Akhtar अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं. Javed Akhtar हर मुद्दे पर अपनी राय रखने से पीछे नहीं हटते, जिसके कारण उन्हें कई बार मुश्किलों का सामना भी करना पड़ता है. वहीं, अब एक बार फिर वह मुश्किल में पड़ गए हैं. राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) के खिलाफ टिप्पणी करना Javed Akhtar को भारी पड़ गया है.

गीतकार Javed Akhtar ने हाल ही में एक इंटरव्यू में RSS की तुलना तालिबान से कर दिया था. जिसके बाद उनके खिलाफ FIR दर्ज हो गया है. मुलंड के थाने में वकील संतोष दुबे ने Javed Akhtar के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है. उनपर आईपीसी की धारा 500 के तहत ये एफआईआर दर्ज करवाई गई है.

इसे भी पढ़ें – Bigg Boss 15 : अफसाना खान ने किया खुलासा, अपनी शादी छोड़कर शो में आईं सिंगर, एंट्री से पहले आया था पैनिक अटैक …

बता दें कि वकील संतोष दुबे ने मीडिया से बातचीत में कहा कि मैंने पहले Javed Akhtar को लीगल नोटिस भेजकर उन्हें उनकी टिप्पणी पर माफी मांगने के लिए कहा था, लेकिन उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया. वहीं, अब उनके खिलाफ मेरी शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है.

मांगा था 100 करोड़ का हर्जाना

वकील संतोष दुबे ने पहले कहा था कि अगर Javed Akhtar बिना शर्त लिखित माफी और नोटिस का 7 दिनों के अंदर जवाब नहीं देते हैं तो वह उनसे 100 करोड़ रुपए हर्जाना मांगते हुए उनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करवाएंगे. उन्होंने कहा था कि जावेद अख्तर ने जिस तरह की बयानबाजी की वह आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत अपराध है.

Read more : 13th Round OF India-China Corps Commander Talks To Begin Next Week 

जावेद अख्तर ने कही थी ये बात

रिपोर्ट्स के मुताबिक Javed Akhtar ने एक इंटरव्यू में कहा था कि आरएसएस का सपोर्ट करने वाले लोगों की मानसिकता भी तालिबानियों जैसी ही है. इस संघ का सपोर्ट करने वालों को आत्मपरीक्षण करना चाहिए. आप जिनका सपोर्ट कर रहे हैं उनमें और तालिबानियों में क्या अंतर है. जावेद अख्तर के इस बयान के बाद ही कई लोगों ने उन पर निशाना साधा था. जिसके बाद उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल भी किया गया था. वहीं जावेद अख्तर ने अगस्त में ट्वीट करके तालिबान का सपोर्ट करने वालों की खिंचाई की थी. उनका ये ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।