बड़ी खबर : मंत्री सिंहदेव ने बैकुंठपुर-शिवपुर चरचा नगर पालिका का चुनाव प्रभारी बनने से किया इंकार, एक दिन पहले ही दी गई थी जिम्मेदारी

रायपुर। प्रदेश में होने वाले निकाय चुनाव के लिए राजनीतिक दलों में उठापटक मची हुई है. ताजा घटनाक्रम स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से जुड़ा है, जिन्होंने कांग्रेस के चुनाव समिति के फैसले को दरकिनार करते हुए बैकुंठपुर जिला प्रभारी बनने से इंकार कर दिया है.

दरअसल, हाल ही में मनेंद्रगढ़ को जिला घोषित किया गया है, लेकिन इसमें खड़गंवा ब्लॉक को शामिल नहीं किए जाने से लोगों में गुस्सा है. यहां तक राजनीतिक दल के लोग भी इस कदम पर अपना विरोध दर्ज करा रहा हैं. ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि लोगों के विरोध से चुनाव में बनने-बिगड़ने वाले समीकरण को देखते हुए सिंहदेव ने बैकुंठपुर और शिवपुर चरचा नगर पालिका का चुनाव प्रभारी बनने से इंकार कर दिया है.

इस बीच स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने बैकुंठपुर में मौजूद विधायक अम्बिका सिंहदेव समेत कई राजनीतिक पार्टी व आम नागरिक से अपनी बात रखी. बताया कि किस तरह से उन्होंने मुख्यमंत्री से बात कर यहां की समस्या बताई है. कोरिया के लोग स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं. ब्लॉक का विभाजन कैसे होगा, जो पंचायतें जिसमें जुड़ना चाहते हैं, तहसील के निर्माण कर किया जा सकता है. खडगंवा के लोगों की राय लेने की बात कही. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने इस पर सहमति जताई है.

सिंहदेव के चुनाव प्रभारी बनने से इंकार करने के बाद अब कांग्रेस चुनाव समिति के लिए उनका विकल्प तलाश करना एक बड़ी समस्या है. ऐसा कौन सा मंत्री है, जिसे दोनों नगर पालिका के चुनाव का प्रभारी बनाया जाए. सिंहदेव जैसे वरिष्ठ मंत्री के इंकार के बाद किसी दूसरे मंत्री के लिए उस जिम्मेदारी को निभाना बहुत कठिन होगा.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!