Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

कर्ण मिश्रा, ग्वालियर। अल्प प्रवास पर ग्वालियर पहुंचे केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल का बीज निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल और उनके समर्थकों ने जोरदार स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल ने पंचायत चुनाव के ऐलान पर बयान देते हुए कहा कि पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी हुई है, ऐसे में उन्हें लगता है कि जनादेश के लिए हम सब तैयार हैं। भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता, सरकार के विकास का जो मॉडल है, उसके आधार पर मतदाता के बीच में जाएगा। उन्होंने विश्वास जताते हुए यह भी कहा कि ग्रामीण विकास को लेकर मोदी जी के जो 8 साल बेमिसाल है, इसमें सेवा, विकास और गरीब कल्याण शामिल है। हम इन तीनों बातों को फोकस करते हैं। मध्यप्रदेश में नीतियों के क्रियान्वन में कांग्रेस शासन काल को छोड़ दिया जाए तो जल जीवन मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना और अन्य सभी योजनाएं आम व्यक्ति तक पहुंची हैं। इसलिए हम विकास के मॉडल पर इस चुनाव में निश्चित रूप से जनता का आशीर्वाद प्राप्त करेंगे।

वहीं मंत्री पटेल ने ज्ञानवापी समेत मंदिर-मस्जिद विवाद को लेकर कांग्रेस द्वारा लगाए जा रहे आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस के जितने भी बुद्धिमान नेता है, उनकी अक्ल को लकवा लग गया है। मंत्री पटेल ने कांग्रेस से सवाल करते हुए कहा कि वह संस्कृति मंत्री रहे हैं ऐसे में कांग्रेस यह बताएं कि दुनिया में ऐसा कौनसा देश है, जहां पर लिखा हो कि 27 जैन और हिंदू मंदिरों को तोड़कर कुतुब मीनार बनाई गई। कांग्रेस याद रखें कि यह शिलालेख ना ही सरकार ने लगाया है ना ही एएसआई ने लगाया है, यह शिलालेख उन आक्रांताओं ने ही लगाया है जो खुद मानते थे कि उन्होंने 27 हिंदू और जैन मंदिरों को तोड़कर कुतुब मीनार बनाई। उन्होंने संस्कृति पर्यटन मंत्री रहते हुए सिर्फ उन शिलालेखों को ट्रांसलेट कराते हुए हिंदी और अंग्रेजी में उन्हें लगवाया था। केंद्रीय मंत्री पहलाद पटेल ने असदुद्दीन ओवैसी और कांग्रेस के नेताओं से पूछा है कि अब उनका क्या मत है?, भारत एकमात्र ऐसा देश है जो इस तरह के कलंक को डोह रहा है, इसलिए कांग्रेस सहित उन सभी लोगों को सलाह है कि वह सहिष्णुता का पाठ ना पढ़ाएं, मुद्दे सामने आएंगे तो दिल के भीतर हर व्यक्ति को कष्ट जरूर होगा।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus