त्रिपुरा नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा ने किया सूपड़ा साफ, अगरतला नगर निगम में विपक्ष का खाता तक नहीं खुला…

अगरतला। त्रिपुरा में रविवार को संपन्न नगरीय निकाय चुनाव में सत्तारुढ़ भाजपा ने एकतरफा जीत हासिल की है. 51 पार्षदों वाले अगरतला नगर निगम में जहां टीएमसी और सीपीआई (एम) अपना खाता तक नहीं खोल पाए, वहीं अन्य नगरीय निकायों में भी भाजपा ने वर्चस्व कायम किया.

चुनाव आयोग से मिला जानकारी के अनुसार, भाजपा ने 15 सदस्यीय खोवाई नगर परिषद, 17 सदस्यीय बिलोनिया नगर परिषद, 15 सदस्यीय कुमारघाट नगर परिषद और नौ सदस्यीय सब्रूम नगर पंचायत की सभी सीटों पर जीत हासिल की. इसके अलावा 25 वार्डों वाले धर्मानगर नगर परिषद, 15 सीट वाले तेलियामुरा नगर परिषद और 13 सदस्यी अमारपुर नगर पंचायत में भी एकतरफा जीत हासिल की है.

सोनामुरा नगर पंचायत और मेलाघर नगर पंचायत में 13 में से 13 सीट जीतकर भाजपा ने विपक्ष विहिन बना दिया है. इसके अलावा जिरानिया नगर पंचायत की 11 में से 11 में भाजपा ने जीत हासिल की. अंबासा नगर परिषद में भाजपा ने 12 सीटों पर जीत हासिल की, वहीं टीएमसी और सीपीआई-एम ने एक-एक जीत पर जीत हासिल की. एक सीट पर निर्दलीय ने जीत हासिल की.

यही नहीं भाजपा ने कैलासाहार नगर परिषद में 16 सीट पर जीत हासिल की, सीपीआई-एम को एक सीट मिली. इसी तरह पनीसागर नगर पंचायत में भाजपा ने 12 सीटों पर जीत हासिल की, सीपीआई-एम को एक सीट मिली.

भाजपा ने त्रिपुरा में संपन्न हुए नगरीय निकाय चुनाव के दौरान अगरतला नगर निगम के अलावा 13 नगरीय निकाय और छह नगर पंचायतों के सभी 334 सीटों पर अपने प्रत्याशी खड़े किए थे, जिनमें से 112 सीटों पर निर्विरोध चुनाव जीते थे, वहीं शेष 222 सीटों के लिए 25 नवंबर को मतदान हुआ था. चुनाव के दौरान टीएमसी ने अपनी मौजूदगी दिखाने का प्रयास किया था, लेकिन परिणाम में किसी भी नगरीय निकाय में कहीं मौजूदगी नजर नहीं आई.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!