Delhi University: अब 7 दिसंबर को आएगी पीजी दाखिलों की तीसरी लिस्ट, थीसिस जमा करने के लिए 6 महीने का और मिला वक्त

UGC ने एमफिल और पीएचडी छात्रों को थीसिस जमा करने की अंतिम तारीख में दिया 6 महीने का एक्सटेंशन

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय में पोस्ट ग्रेजुएट दाखिलों के लिए तीसरी मेरिट लिस्ट 3 दिसंबर को जारी की जानी थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने निर्णय लिया है कि पोस्ट ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों के लिए अब तीसरी मेरिट लिस्ट 7 दिसंबर को जारी की जाएगी. वहीं दूसरी मेरिट लिस्ट के आधार पर शनिवार 4 दिसंबर तक दाखिला के लिए आवेदन किया जा सकता है. दिल्ली विश्वविद्यालय के मुताबिक 7 दिसंबर को जारी की जाने वाली मेरिट लिस्ट के आधार पर छात्र 8 और 9 दिसंबर तक विभिन्न कोर्सेज में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

हमारा श्रवण कुमार “केजरीवाल” के नारों के साथ अयोध्या की पहली ट्रेन रवाना, CM के सिर पर हाथ रखकर बुजुर्गों ने दिया आशीर्वाद

विश्वविद्यालय के मुताबिक इस साल दिल्ली विश्वविद्यालय पीजी कोर्स में प्रत्येक सीट के लिए औसतन 9 छात्रों ने आवेदन किया है. दिल्ली विश्वविद्यालय में विभिन्न स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में लगभग 20,000 सीटें हैं, लेकिन इन पाठ्यक्रमों में करीब 1.80 लाख छात्रों ने आवेदन किया है. पीजी एडमिशन के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय द्वारा दूसरी मेरिट लिस्ट 26 नवंबर को जारी की थी. दूसरी मेरिट लिस्ट के आधार पर 27 नंवबर से 30 नवंबर तक दाखिला प्रक्रिया शुरू की गई. इसके बाद पीजी दाखिले के लिए 3 दिसंबर को तीसरी मेरिट लिस्ट जारी होनी थी, हालांकि यह लिस्ट 7 दिसंबर को जारी की जाएगी.

लंदन, वॉशिंगटन और पेरिस से भी आगे निकली दिल्ली, CCTV कैमरे लगाने के मामले में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली को बनाया दुनिया का नंबर वन शहर

उधर जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) ने भी एमए, एमएससी और एमसीए आदि पीजी पाठ्यक्रमों के लिए ली गई प्रवेश परीक्षा के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं. जेएनयू के इन पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने के लिए देश भर से विभिन्न राज्यों के हजारो छात्रों ने आवेदन और प्रवेश परीक्षाएं दी थीं. जेएनयू अब एमए, एमएससी और एमसीए की प्रवेश परीक्षा में अर्जित किए गए अंकों के आधार पर सफल उम्मीदवारों का चयन कर रहा है. विश्वविद्यालय ने दाखिले के लिए ऐसे सफल छात्रों की सूची जारी कर दी है. छात्र अपने रोल नंबर के जरिए यह लिस्ट वेबसाइट पर चेक कर सकते हैं.

अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में विधायकों-मंत्रियों के बच्चों को नौकरी देने पर उठाए सवाल, सीएम चन्नी पर कसा तंज

दिल्ली विश्वविद्यालय में जहां पीजी के लिए करीब 1.80 लाख छात्रों ने आवेदन किया था, वहीं एमफिल और पीएचडी के लिए करीब 28,827 पंजीकरण हुए हैं. रजिस्ट्रेशन करवाने वाले छात्रों की प्रवेश परीक्षा 26, 27, 28, 29 व 30 सितंबर और 1 अक्टूबर को आयोजित की गई थी. एक अहम फैसलें में यूजीसी ने एमफिल और पीएचडी छात्रों को बड़ी राहत प्रदान की है. यूजीसी ने एमफिल और पीएचडी छात्रों को थीसिस जमा करने की अंतिम तिथि में छह महीने का एक्सटेंशन दिया है. यूजीसी द्वारा जारी किए गए इस निर्देश के मुताबिक एमफिल और पीएचडी कर रहे छात्र अब अगले वर्ष 30 जून तक अपनी थीसिस जमा करवा सकते हैं. इससे पहले यह थीसिस इसी वर्ष 31 दिसंबर तक जमा करवाई जानी थी.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!