VIDEO : हाथी के हमले का दर्दनाक वीडियो, एक पल की देर से युवक की चली जाती जान, सूझबूझ से ऐसे बचाई जान…

पुरूषोत्तम पात्र, गरियाबंद. जिले के ओढ़ गांव में एक आक्रोशित हाथी ने जमकर उत्पात मचाया. हाथी के हमले में एक ग्रामीण की जान जाते-जाते बची, अगर ग्रामीण थोड़ी सी भी देरी करता तो उसकी जान जा सकती थी. ग्रामीण ने पड़ोसी के छत में शरण ली. तब जाकर उसकी जान बची. जहां अन्य ग्रामीण भी ठहरे हुए थे.

कुछ ही मिनट में हाथी ने कच्चा मकान उजाड़ दिया. बता दें कि हाथी जब युवक का घर उजाड़ रहा था, तब लोग वीडियो बनाने में मशगुल थे. हाथी बेहद आक्रोशित होने के चलते ग्रामीणों को यहां-वहां दौड़ाया और गांव वाले उससे बचने के लिए भागते नजर आए. वीडियो में लगातार हाथी द्वारा उत्पात मचाते आप देख सकते हैं.

देखिये वीडियो-

प्रशासन 46 प्रकरणों में करीब तीन लाख का मुआवजा बांटा जा चुका है. वही बीते दो दिनों में हुए नुकसान का आकलन अभी बाकी है, जिसमें लोगों के घर और शौचालय का भी मुआवजा देने की बात वन अधिकारी कह रहे हैं. इसके अलावा अंबिकापुर और सूरजपुर से दो महावत बुलवाएं गए हैं जो लोगों को हाथी से बचने के बारे में बता रहे हैं.

इस संबंध में उदंती टाइगर प्रोजेक्ट के सहायक संचालक विष्णु का कहना है कि हम गांव वालों को हाथी के मूवमेंट वाले इलाके की जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं. हाथी जंगल में है वहां ना जाए. ग्रामीणों को सावधान रहने, रंगीन कपड़े ना पहनने और हाथी दिखने पर सेल्फी लेने का प्रयास ना करने के निर्देश दिए हैं अकेले जंगल जाने से मना किया गया है.

इसके अलावा लोगों में हाथी के प्रति आक्रोश ना पनपे इसके लिए हम तत्काल मुआवजे का प्रकरण बना रहे हैं. अब तक 46 लोगों को तीन लाख का मुआवजा बांटा जा चुका है. वहीं बीते दो दिनों में हुए नुकसान का आकलन करने फिर रेंजर गए हुए हैं जो घर शौचालय और बाडियो को नुकसान पहुंचाया गया है उसका मुआवजा का आज प्रकरण बनाया जाएगा. हफ्ते भर के भीतर इस नुकसान की भरपाई भी वन विभाग करेगा.

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।