पॉकेट bulletin video : गूगल ने उठाया बड़ा कदम ! देखिए देश-विदेश-प्रदेश की बड़ी ख़बरें…

शिवम् मिश्रा, रायपुर। पॉकेट बुलेटिन में आज अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव, गूगल का बड़ा कदम, चीनी विदेश मंत्रालय का बयान, प्रधानमंत्री का संबोधन, कोर्ट से सरकार को नोटिस जैसी बड़ी ख़बरें हैं. पूरी ख़बर यहाँ पढ़िए और नीचे लिंक क्लिक कर देखिए पॉकेट बुलेटिन.

Close Button

गूगल ने उठाया बड़ा कदम

नवंबर में अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर गूगल ने बड़ा कदम उठाया है. राष्ट्रपति चुनाव को लेकर गलत जानकारी देने वाले ओर भ्रामक विज्ञापनों को गूगल ने अपने मंच से हटा दिया है. इन विज्ञापनों में से कुछ ने मतदान के लिए पंजीकरण करने के लिए लोगों से शुल्क लिया गया है. वहीं, कुछ ने विपणन संबंधी लक्ष्य पूरा करने के लिए लोगों की निजी जानकारियां हासिल की है. गैर-लाभकारी टेक कंपनी ‘टेक ट्रांसपरेंसी प्रोजेक्ट’ ने इन विज्ञापनों की पहचान की. साथ ही गूगल पर मतदान पंजीकरण करने वाले विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

चीनी विदेश मंत्रालय का बयान

भारत में 59 चीनी ऐप्स को बैन किए जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय ने चिंता जाहिर की है. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि इस पूरे मसले पर चीन बहुत चिंतित है और पूरे मामले की जानकारी ली जा रही है. गौरतलब है कि कल ही मोदी सरकार ने टिकटॉक समेत 59 चीनी ऐप्स पर बैन लगा दिया है. चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘हम इस बात पर जोर देना चाहते हैं कि चीनी सरकार हमेशा चीनी व्यवसायों को अंतरराष्ट्रीय और स्थानीय कानूनों-विनियमों का पालन करने के लिए कहती है. भारत सरकार के पास चीनी निवेशकों सहित अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों को बनाए रखने की जिम्मेदारी है.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का किया विस्तारप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज देश को संबोधित करते हुए कोरोना संकट के बीच में एक बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि कोरोना का संक्रमण अब और तेजी के साथ बढ़ रहा है. ऐसी स्थिति में हमें जरा सी भी लापरवाही नहीं बरतनी है. हमने शुरुआती दौर में जिस तरह से खुद को सुरक्षित रखने के लिए कड़ाई से लॉकडाउन के नियमों का पालन किया था, उसी तरह से हमें आगे लॉकडाउन के निर्देशों का पालन करना होगा. पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते हुए अब हम अनलॉक -2 में प्रवेश कर रहे हैं और हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जहां सर्दी-जुखाम, खांसी-बुखार के मामले बढ़ जाते हैं. साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार कोरोना संकट के बीच गरीब कल्याण योजना चला रही है. इस योजना का हम विस्तार करने जा रहे हैं. कोरोना संकट अभी खत्म में नहीं हुआ है. ऐसी स्थिति में 80 करोड़ लोगों तक सरकार पूरी मदद पहुँचाएगी. सरकार ने तय किया है कि 80 करोड़ गरीब लोगों को जुलाई से नवंबर महीने तक 5 किलों गेहूँ या चावल दिया जाएगा. इसके साथ ही प्रत्येक गरीब परिवार को 1 किलों चना भी दिया जाएगा.

 सरकार से 4 हफ्तों में मांगा जबाव

छत्तीसगढ़ प्रदेश में लगातार हो रही हाथियों की मौत का मामला अब अदालत तक जा पहुंचा है. पूर्व IFS ऑफिसर डॉ. अनूप भल्ला की ओर से मामले में दायर जनहित याचिका पर उच्च न्यायालय ने प्रदेश सरकार से 4 हफ्तों में जवाब मांगा है. मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस रामचंद्र मेनन और जस्टिस पी.पी साहू की डिवीजन बेंच में हुई. बता दें कि राज्य में 9 जून से लेकर 16 जून के बीच एक के बाद 5 हाथियों की मौत हुई थी. पहले सूरजपुर जिले के प्रतापपुर में एक गर्भवती हथिनी समेत दो हथिनी की मौत हुई थी. गर्भवती हथिनी की मौत की वजह लिवर में इन्फेक्शन था. वही बलरामपुर जिले के राजपुर वन परिक्षेत्र के अतौरी के जंगल में भी 11 जून को एक हथिनी का शव मिला था. उसकी मौत 3 से 4 दिन पहले हुई थी, लेकिन शव बाद में बरामद हुआ था. इसके बाद रायगढ़ जिले के धर्मजयगढ़ गांव गेरसा में करेंट की चपेट में आने से एक हाथी की मौत हो गई थी.

 दंडाधिकारी जांच के आदेश दिए

राजधानी रायपुर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र में मुख्यमंत्री निवास के सामने धमतरी निवासी युवक हरदेव सिन्हा के द्वारा आत्मदाह के प्रयास करने के मामले में दंडाधिकारी जाँच के आदेश दिए गए हैं. सरकार की ओर से जारी किए गए प्रेस नोट में कहा गया है कि कलेक्टर धमतरी द्वारा इस संबंध में प्राप्त प्रारंभिक जांच प्रतिवेदन के आधार पर दंडाधिकारी जांच की जाएगी. जांच के लिए अनुविभागीय विभागीय दंडाधिकारी धमतरी को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है. कलेक्टर धमतरी ने जांच के लिए एक माह की समय सीमा निर्धारित की है. बता दे की दंडाधिकारी द्वारा जांच के लिए कुल 10 अधिक बिन्दु निर्धारित किया गया है.

देखिए पॉकेट बुलेटिन
https://www.youtube.com/watch?v=-TnM_DYxdWM&feature=youtu.be

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।