पीटीआई टीचर ने हाईस्कूल के 25 छात्रों को जमकर पीटा, कराया उठक बैठक, स्कूल से नाम काटने की दी धमकी

लक्ष्मीकांत बसोड़,डौंडी. ब्लॉक के चिखली हाईस्कूल के छात्रों को पीटीआई टीचर ने शनिवार को पिटाई कर दी. छात्र-छात्राएं सिर्फ पांच मिनट देरी से स्कूल पहुंचे थे. इतने में वह भड़क गईं. 9वीं व 10वीं के छात्र-छात्राओं ने बताया कि जब हम स्कूल पहुंचे तो करीब 5 मिनट देर हो गई. जिसके कारण हमारी पीटीआई टामीन साहू ने जमकर पीटा व पूरे सौ-सौ बार उठक बैठक लगवा दी और किसी को बताने पर टीसी काटने तक की धमकी दी गई. बच्चों ने अपना इलाज गांव के प्राइवेट डॉक्टरों से कराया. जब एक दो दिन बाद बच्चों को हाथ पैरों में बहुत ज्यादा दर्द हुआ तो बच्चों ने मीडिया को इसकी जानकारी दी. बच्चों ने नाम ना छापने के शर्त पर बताया कि अगर ऐसे टीचरों पर कार्रवाई नहीं हुई तो कलेक्टर से शिकायत कर एफआईआर करने की मांग करेंगे.

पीटीआई के कारनामों से बच्चे परेशान

स्कूल में पदस्थ पीटीआई टामीन साहू वर्ष 2013 से इस स्कूल में पदस्थ हुई है. जब से स्कूल मे है तब से बच्चों की किसी न किसी प्रकार से परेशान होना पड़ रहा है. इससे पूर्व मे भी वर्ष 2015 में भी पीटीआई की शिकायत हो चुकी है. लेकिन ब्लाक में बैठे भ्रष्ट अधिकारियों के चलते बच्चों की शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हो पाई. जिसके कारण पीटीआई ने अपना व्यवहार आज भी नहीं सुधारा.

इस मामले में स्कूल की प्राचार्य के छुट्टी पर होने के कारण फोन से बात कर जानकारी लेना चाहा गया तो उनका फोन स्विच ऑफ मिला. वहीं प्रभारी प्राचार्य ने मामले में कुछ भी कहने से इनकार कर दिया.

कलेक्टर रानू साहू ने कहा कि स्कूल के बच्चों के साथ मारपीट और उठक-बैठक की घटना निंदनीय है. ऐसा नहीं किया जाना चाहिए,  मैं इसकी जांच करवाती हूं.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।