पंजाब में फिर से हुई भगत सिंह पुरस्कार की शुरुआत, सरकार ने की घोषणा, इन युवाओं को मिलेगा ये सम्मान

चंडीगढ़। देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पंजाब सरकार ने रविवार को शहीद-ए-आजम भगत सिंह राज्य युवा पुरस्कार फिर से शुरू करने की घोषणा की. जो कि लंबे समय से बंद पड़ा था. पुरस्कार राज्य के प्रत्येक जिले से दो-दो युवाओं को मिलेगा. इस पुरस्कार को फिर से शुरू करने का उद्देश्य युवाओं को सशक्त बनाने के अलावा राज्य के विकास में भागीदारी को बढ़ाना है. चंडीगढ़ में बने युवा भवन को भी केंद्र के रूप में फिर से बनाया जा रहा है.

स्पोर्ट्स एंड यूथ सर्विस मिनिस्टर गुरमीत सिंह मीत हेयर ने कहा कि सरकार भगत सिंह की विचारधारा को आगे बढ़ाने और प्रदेश में नेतृत्व की भूमिका निभाने के लिए युवाओं को तैयार करने के प्रयास कर रही है. पुरस्कार में 51,000 रुपये की नकद राशि, एक पदक, एक स्क्रॉल, एक ब्लेजर और एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा. यह पुरस्कार राज्य के प्रत्येक जिले से 15 से 35 वर्ष की आयु के दो व्यक्तियों को दिया जाता है.

इन क्षेत्रों में योगदान के लिए दिया जाएगा पुरस्कार

यह पुरस्कार युवा कल्याण गतिविधियां, NCC, NSS, सामाजिक सेवाएं, सांस्कृतिक गतिविधियां, खेल, राष्ट्रीय एकता, रक्तदान, ड्रग्स के खिलाफ जागरुकता, शैक्षिक योग्यता, वीर कर्म, स्काउट्स, मार्गदर्शक और साहसिक गतिविधियों के लिए मानदंड हैं.

इसे भी पढ़ें : पंजाब में लागू हो गई ये पेंशन योजना… जाने इसके फायदे और नुकसान

Related Articles

Back to top button