Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर पत्र लिखकर देश में नफरत भरे भाषणों पर रोक नहीं लगाने और उनके फोलोवर्स तक पहुंच को कम करने की उसकी नीति पर सवाल उठाया है। 27 दिसंबर को लिखे गए पत्र में कहा गया है, “यह हैरान करने वाला है कि मेरे ट्विटर फॉलोअर्स में वृद्धि अचानक कम कर दी गई है, मेरे ट्विटर अकाउंट पर लगभग 20 मिलियन फॉलोअर्स बहुत सक्रिय हैं, जो रोजाना 8 से 10 हजार फॉलोअर्स जोड़ते हैं।”

उन्होंने कहा कि मई में उनके खाते में 6,40,000 फोलोवर्स थे लेकिन अगस्त के बाद से यह गिरकर शून्य हो गया है। उन्होंने लिखा, “हालांकि मुझे ट्विटर इंडिया के लोगों ने बड़ी सावधानी से सूचित किया है कि उन पर सरकार द्वारा मेरी आवाज को चुप कराने का भारी दबाव है।”

राहुल ने ट्विटर से कहा, “आपकी बहुत बड़ी जिम्मेदारी है कि ट्विटर भारत में सत्तावाद के विकास में सक्रिय रूप से मदद नहीं करे, जैसा कि दुनिया देख रही है।”

उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि कैसे उनके खाते को ब्लॉक किया गया था, लेकिन उस समय ट्विटर ने कहा था कि एनसीपीसीआर की शिकायत के बाद, राहुल के ट्विटर खाते को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया और पार्टी ने अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट किया था कि इसकी बहाली के लिए उचित प्रक्रिया का पालन किया जा रहा था। राहुल गांधी, जो अप्रैल 2015 में ट्विटर से जुड़े थे और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उनके 19.6 मिलियन फॉलोअर्स है।

">
Share: