अरविन्द मिश्रा, बलौदाबाजार. छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले के चर्चित सेक्स स्कैंडल मामले के फरार आरोपियों पर पुलिस ने ईनाम की घोषणा कर दी है. पुलिस की लगातार कोशिशों के बाद भी सेक्स स्केंडल के आरोपी अब तक गिरफ्त से बाहर हैं. जिसे लेकर अब पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लगे हैं. जिसके बाद SP ने अब आरोपियों को पकड़ने में मदद करने वाले को पुरुस्कार से सम्मानित करने की घोषणा कर दी है.

दरअसल, बलौदाबाजार पुलिस ने मामला दर्ज होते ही चार आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर वाहवाही बटोरी थी. वहीं विगत दो माह से पुलिस लगातार छापेमारी कर पतासाजी कर रही है पर आरोपी ऐसे बिल में जा घुसे हैं कि पुलिस कुछ नहीं कर पा रही है.

वहीं अब इस पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने आरोपियों पता बताने व पकड़वाने पर ईनाम देने की घोषणा की है. इसके साथ ही एसपी ने पता बताने वाले का नाम पूर्णतः गोपनीय रखने का आश्वासन भी दिया है.

बता दें, इस सेक्स स्कैंडल मामले में जनप्रतिनिधियों के साथ पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारी का नाम भी शामिल होने की बात सामने आई थी. वहीं तमाम सवालों के बीच एसपी सदानंद कुमार ने कहा कि पुलिस आरोपियों की लगातार ढुंढने का प्रयास कर रही है. वो जितना भागेंगे उतना ही नुकसान पर रहेंगे. 

उन्होंने आगे कहा कि हमें देर जरूर लग रही है, पर आरोपियों को पकडेंगे जरूर। वहीं फरार आरोपियों का पता बताने वाले को नगद राशि से पुरूस्कृत करने और उनका नाम गोपनीय रखने की बात भी कही है. 

सेक्स स्कैंडल में फरार आरोपियों में शिरीष पांडेय, आशीष शुक्ला, पुष्पमाला फेकर व हीराकली डहरिया  शामिल हैं। इनके पकड़ में आने से इस मामले में और भी शामिल लोगों के नाम सामने आ सकते हैं।