Last Solar Eclipse Of 2021: सूर्य ग्रहण के साथ बन रहा शनि अमावस्या का अद्भुत संयोग, शुभ फलदायक होती है इस राशियों की साढे-साती …

रायपुर. सदी का सबसे लंबा 581 साल के बाद चंद्र ग्रहण 19 नवंबर 2021 को लगा था. वहीं, साल 2021 के अंतिम शनि अमावस्या पर एक विशेष संयोग बन रहा है. 4 दिसंबर शनि अमावस्या के दिन आखिरी सूर्य ग्रहण का विशेष संयोग बन रहा है. साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 2021 चंद्र ग्रहण के ठीक 15 दिन के बाद लगने वाला है.

बता दें कि साल के आखिरी सूर्य ग्रहण का समय सुबह 10.59 बजे से शुरू होकर दोपहर 03.07 बजे तक रहेगा. यह पूर्ण सूर्य ग्रहण होगा. हिंदू पंचांग के मुताबिक, ये सूर्य ग्रहण मार्गशीर्ष महीने के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि को लगेगा. जब अमावस्या सूरज और पृथ्वी के बीच आती है, तो वह अपनी छाया का सबसे गहरा भाग पृथ्वी पर डालती है.

इसे भी पढ़ें – Akshay Kumar की Prithviraj पर छिड़ा विवाद, फिल्म के टाइटल को लेकर दी गई चेतावनी … 

शास्त्रों के मुताबिक, मार्गशीर्ष महीने के कृष्ण पक्ष की अमावस्या में लगने वाले सूर्य ग्रहण का विशेष महत्व होता है. 4 दिसंबर 2021 को लगने वाला ये सूर्य ग्रहण अंटार्कटिका, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा. इस ग्रहण को भारत में नहीं देखा जाएगा, जिसकी वजह से इसका सूतक काल भी मान्य नहीं होगा.

शनि जिन राशियों में कारक होते हैं, उन लोगों को साढे-साती में बड़े स्तर पर लाभ भी प्रदान करते है. प्रायः वृष, तुला, मकर, कुम्भ राशि वालों के लिए इनकी साढे-साती शुभ फलदायक होती है. वह भी व्यक्ति के कर्म के आधार पर ही शुभ या अशुभ फल कम या अधिक मात्रा में प्राप्त होता है. इस प्रकार कर्म फल प्रदायक शनि देव अच्छे कर्म करने वाले को पुरस्कृत और गलत कार्य करने वाले को दण्डित करने से भी नहीं चूकते हैं.

सूर्यग्रहण पर जरूर करें ये काम

  • खाने की बनी हुई चीजों में तुलसी के पत्ते डाल दें. दूध में भी तुलसी डालना न भूलें. तुलसी के पत्ते ग्रहण के समय निकलनेवाली हानिकारक तरंगों से भोजन को दूषित नहीं होने देते.
  • आजकल घरों में पीने का पानी भी भरकर रखा जाता है. ऐसे में पीने के पानी में धुलकर साफ किए हुए तुलसी के पत्ते और कुछ बूंदें गंगाजल की मिला दें. इससे यह दूषित नहीं होगा.
  • सनातन धर्म में कई कार्यों को सूतक काल के दौरान करने की मनाही है. इस समय में खाना नहीं खाना चाहिए.
  • ग्रहण खत्म होने के बाद पूरे घर में झाडू़ लगाकर गंगाजल का छिड़काव करें.
  • भगवान के मंदिर को गंगाजल छिड़ककर पवित्र करें और धूप-दीप कर उन्हें भोग अवश्य लगाएं.
  • सूर्यग्रहण के साथ-साथ आज शनि अमावस्या भी है इसलिए दान-पुण्य और पूजन करना शुभ रहेगा.

इसे भी पढ़ें – Happy Ending : साल का आखिरी महीना इन 5 राशि वालों के लिए लेकर आएगा खुशियां, जानिए क्या कुछ होगा शुभ … 

सूर्य ग्रहण पर इन बातों का जरूर रखें ध्यान

  • ग्रहण के दौरान भोजन नहीं करना चाहिए.
  • ग्रहण के दौरान सोना नहीं चाहिए.
  • ग्रहण के दौरान भगवान का ध्यान करना चाहिए या नाम का जाप करना चाहिए.
  • अगले दिन आराम से स्नान-दान कर सकते हैं. इस बार कुछ नियमों का पालन न कर पाएं तो चिंता की बात नहीं है.
  • ग्रहण के दौरान शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए.
">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!