Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्ली नगर निगम में आवारा कुत्तों की संख्या काफी बढ़ गई है, ऐसे में पूर्वी निगम ने शुभ ग्रुप नामक स्वयंसेवी संस्था के साथ मिलकर एक नई पहल की शुरुआत की है. इसी बीच शुक्रवार को ‘रजिस्ट्रेशन ऑफ पेट्स एंड अडॉप्शन ऑफ स्ट्रे डॉग्स’ विषय पर सेमीनार आयोजित किया गया. इसके तहत लोगों को कुत्तों के प्रति प्रोत्साहित किया जाएगा कि वे आवारा कुत्तों को गोद लेकर उनकी देखभाल करें. यदि कोई ऐसा करता है, तो निगम टीकाकरण सहित अन्य इंतजाम में उनकी मदद करेगा.

जेएनयू में रद्द हुआ कश्मीर को ‘भारतीय कब्जे वाला कश्मीर’ कहने वाला आपत्तिजनक वेबिनार

निगम के मुताबिक, क्षेत्र में आवारा कुत्ते एक बड़ी चुनौती हैं, लेकिन इन पशुओं के साथ अच्छा व्यवहार करना होगा और समय अनुसार उनको खाने पीने के लिए देना होगा. इसके अलावा हो सके, तो आवारा कुत्तों को अडॉप्ट भी किया जाए. निगम द्वारा अपील की गई कि आवारा पशुओं के साथ अच्छा व्यवहार करें और जानवरों को मारने से बचें.

10 महीने से बंद टिकरी बॉर्डर की खुलेंगी सड़कें, दिल्ली पुलिस बैरिकेड्स, कंक्रीट दीवार हटाने में जुटी

इस मौके पर महापौर श्याम सुंदर अग्रवाल ने कहा कि निगम ने सितंबर महीने से पालतू पशुओं के रजिस्ट्रेशन की ऑनलाइन सुविधा आरंभ की, लेकिन अभी तक दोनों जोनों में केवल 200 पालतू पशुओं का ही रजिस्ट्रेशन हुआ है, जबकि पूर्वी दिल्ली में लगभग एक लाख से ऊपर घरों में पालतू पशु हैं.