स्कूल के प्राचार्य पर महिला शिक्षकों ने लगाया गंभीर आरोप, कहा- छुट्टी पर बुलाकर करते हैं आपत्तिजनक कमेंट…

पवन दुर्गम, बीजापुर– डीएवी पब्लिक स्कूल आवापल्ली के महिला शिक्षकों ने प्राचार्य पर दुर्व्यवहार और अपशब्दों का प्रयोग कर प्रताड़ित करने का गंभीर आरोप लगाया है. परेशान शिक्षक व शिक्षिकाओं ने जिला पंचायत सीईओ से मिलकर प्राचार्य मनोज शर्मा को हटाने की मांग की है. महिला शिक्षिकाओं ने मनोज शर्मा पर बदसलूकी के साथ-साथ चारित्रिक अपशब्दों से जलील करने के गंभीर आरोप लगाए हैं. सीईओ के आश्वासन के बाद शिक्षकों का दल वापस लौट गए.

दरअसल जिला मुख्यालय से 33 किमी दूर उसूर विकासखंड के आवापल्ली में डीएवी पब्लिक स्कूल संचालित है. जिसमें प्राचार्य मनोज शर्मा के बदसलूकी और धमिकियों से पीड़ित शिक्षक-शिक्षिकाओं ने अब प्राचार्य को हटाने की ठान ली है. सभी शिक्षक जिला पंचायत सीईओ से भी मिले हैं जहां सीईओ ने कलेक्टर से बात कर निराकरण का आश्वासन दिया है.

शिक्षकों ने सीईओ को जो आवेदन प्राचार्य को हटाने को लेकर सौंपा है उसको पड़ने के बाद एक मिनट भी प्राचार्य मनोज शर्मा को अपने पद पर नहीं रखना चाहिए. 21 बिंदुओं को आधार बनाकर शिक्षकों ने सीईओ को आवेदन दिया है, जिसमें मुख्य रूप से जातिगत एवं व्यग्तिगत मानसिक प्रताड़ना, शिक्षकों को बर्खास्त करने की धमकियां देना, महिला शिक्षकों को निजी जीवन से जुड़ी टिप्पणी करना, लिपिकों को नियमित तौर पर चालक बना कर रखना, शिक्षकों को चरवाहा, बेईमान,  डूबमरो जैसे बदसलूकी सहित अन्य आरोप शिक्षकों ने लगाए हैं.

वहीं एक महिला शिक्षिका नज़्म परीन ने बताया कि छुट्टी के दिनों में भी प्राचार्य संस्था में उपस्थित रहने दबाव बनाते हैं. जिला मुख्यालय में जाने पर प्राचार्य द्वारा आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करते हैं. बीजापुर जाकर अपने पुरूष मित्र से मिलते हो ऐसे आरोप लगाकर जलील करते हैं. मनोज शर्मा के इस व्यवहार के कारण अब महिला शिक्षक स्कूल जाने से भी कतरा रहे हैं, शिक्षिका ने आरोप लगाया कि वो अपने ही संस्था में असहज महसूस करने लगे हैं. संस्था में पदस्थ महिला चपरासी का आरोप है कि उन्हें छुट्टी के दिनों में अपने निजी गृह कार्य के लिए प्राचार्य 40 किमी दूर बीजापुर बुलाते हैं. नहीं जाने पर बर्खास्त करने की धमकियां देते हैं. चपरासी ने बताया कि छुट्टी के समय वो अपने परिजन-परिवार के साथ समय नहीं बिता पाती हूं.

इस मामले में जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद ठाकुर ने बताया कि अभी आपके माध्यम से मुझे जानकारी मिली है, जैसे ही मेरे पास शिकायत आएगी. इस मामले में उचित कार्यवाही की जाएगी.

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।