Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

संजय विश्वकर्मा, उमरिया। कड़ाके की सर्दी में ग्रामीण क्षेत्रों में बाघ की चहलकदमी से ग्रामीणों के पसीने छूट रहे हैं। गांव में बाघ की लगातार चहलकदमी से ग्रामीणों की रातों की नींद उड़ गई है, वहीं वन विभाग ने ग्रामीणों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए है।

Read More : …..और विक्की कौशल दूसरी ही गेंद पर बोल्डः प्रोडक्शन टीम के साथ खेला क्रिकेट, आउट होने के बाद फिर लगाए चौके-छक्के, देखिए VIDEO 

विश्वप्रसिद्ध बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के बफर जोन के गांवों में बसे हुए ग्रामीण शाम होते ही बाघों की दहाड़ के बीच अपना रोजमर्रा का काम समय से पहले निपटा कर घरों में दुबक जाते हैं। यहां ऐसी कोई रात नहीं होती जबगांव में टाइगर का मूवमेंट न हो। गांव के निवासी रामलाल बताते हैं कि रात होते ही बाघ की मूवमेंट गांव के अंदर होने लगती है। भय और दहशत के बीच हमारी रातें कटती हैं।

Read More : बाइक के साथ जिंदा जला युवक: बस की टक्कर के बाद टंकी फटने से बाइक में लगी आग, जिंदा जलने से युवक की मौत 

वही फील्ड डायरेक्टर बीएस अन्नीगेरी ने कहा कि बांधवगढ के बफर में बसे आधा दर्जन गांवों में टाइगर की मूवमेंट बनी हुई है। टाइगर रिजर्व का अमला हाथियों के साथ ऐसी सभी सेंसिटिव लोकेशन में सघन गस्त की जा रही है, साथ ही ग्रामवासियों को रात में न निकलने की समझाइश भी विभाग के द्वारा दी जाती है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">
Share: