एक ही परिवार के 4 सदस्यों को कुल्हाड़ी से काटकर उतारा मौत के घाट, मां-बेटी के साथ दुष्कर्म की आशंका

प्रयागराज. यूपी के प्रयागराज जिले से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. एक दलित परिवार के चार लोगों की नृशंस हत्या कर दी गई. चारों के सिर पर कुल्हाड़ी से वार कर मारा गया. वहीं मां और बेटी के साथ बलात्कार की आशंका जताई जा रही है.

प्रयागराज के गोहरी गांव में गुरुवार सुबह फूलचंद (50) उसकी पत्नी मीनू (47) बेटी सपना (17) और बेटे शिव (10) की कमरे में खून से सनी लाश बरामद हुई. शवों से बदबू उठ रही थी. बुधवार को परिवार का कोई भी सदस्य घर से बाहर नहीं निकला. ऐसे में माना जा रहा है कि मंगलवार की रात चारों को मारा गया. सपना और मीनू के कपड़े अस्त व्यस्त पाए गए. सपना का शव चारपाई के नीचे पड़ा था. आशंका है कि दुष्कर्म के बाद हत्या की गई हो सकती है. घर का मेन दरवाजा खुला हुआ था. घर से कुछ ले नहीं जाया गया. ऐसे में लूट, चोरी को लेकर पुलिस हत्या से इंकार कर रही है.

दलित परिवार के चार लोगों की हत्या से गांव में आक्रोश है. जमीन के विवाद को लेकर दो किलोमीटर दूर रहने वाले कमलेश सिंह, राकेश सिंह, कान्हा ठाकुर आदि से इस परिवार का विवाद चल रहा है. कमलेश सिंह जेल में है. एक महीना पहले दलित फूलचंद के परिवार ने ठाकुर परिवार पर मुकदमा दर्ज कराया था. इसके बाद उस परिवार की ओर से क्रास एफआईआर छेड़खानी की कराई गई. ठाकुर परिवार के सात लोगों के खिलाफ तहरीर दी गई है. आक्रोशित महिलाओं ने शव नहीं उठने दिया.

इंस्पेक्टर फाफामऊ राम केवट पटेल और सिपाही सुशील पर महिलाओं ने गंभीर आरोप लगाए तो आईजी राकेश सिंह ने दोनों को निलंबित कर दिया. इसके बाद ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका. आरोपित परिवार के कई लोगों को एसटीएफ और क्राइम ब्रांच ने हिरासत में ले लिया है. जमीन के विवाद के अलावा पुलिस दुष्कर्म के लिए हत्या के एंगल पर भी जांच कर रही है. गांव में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात है.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।