विराट कोहली ने कहा एक वक्त करियर में ऐसा आया था जब लगा सबकुछ खत्म हो गया…

 

स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और बांग्लादेश के बीच सीरीज के पहले टेस्ट मैच की शुरुआत 14 नवंबर से होने जा रही है, उससे पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कई अहम बातें कही हैं, साथ ही अपने करियर को लेकर भी बहुत कुछ खुलासे किए हैं.

विराट कोहली ने ग्लेन मैक्सवेल के उस फैसले की जमकर तारीफ की है, जिसमें ग्लेन मैक्सवेल ने मेंटल हेल्थ को लेकर क्रिकेट से अनिश्चितकालीन ब्रेक लिया है, विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी के फैसले की जमकर सराहना की है.

विराट कोहली ने कहा कि इंटरनेशनल लेवल पर खेलते हुए हर टीम में शामिल हर खिलाड़ी को अपनी बात रखने का कौशल आना चाहिए, मुझे लगता है कि ग्लेन मैक्सवेल ने शानदार काम किया है.

विराट कोहली ने साल 2014 में इंलैंड दौरे पर अपने खराब फॉर्म को भी याद किया, और कहा कि मैं भी अपने करियर में ऐसे ही मोड़ से गुजर चुका हूं, मुझे भी उस वक्त लगा था कि दुनिया खत्म हो गई है, मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं, और सबसे क्या कहूं, कैसे बात करूं भारतीय कप्तान ने कहा ईमानदारी से कहूं तो हर कोई अपने काम पर फोकस करता है, ये पता करना मुश्किल है कि दूसरे व्यक्ति के दिमाग में क्या चल रहा है.

विराट कोहली ने आगे कहा कि साल 2014 में जब वो खराब  फॉर्म के दौर से गुजर रहे थे तो उनकी भी जमकर आलोचना हुई थी, कोहली कहते हैं कि मैं उस समय कह नहीं सका कि मानसिक तौर पर अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं, और खेल से दूर जाने की जरूरत है. आपको पता नहीं होता है कि उसे किस रूप में लिया जाएगा. मुझे लगता है कि इन चीजों का सम्मान किया जाना चाहिए.

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।