Advertise at Lalluram

क्यों वाट्सएप से दूर हो गए सिंहदेव और भूपेश ने भी कर लिया किनारा?

CG Tourism Ad

रायपुर- जरा सोचिए कि सोशल मीडिया पर कार्यक्रम हो , और बड़े नेता ही सोशल मीडिया की ताकत पर बोलते हुए ये कहे कि वे खुद सोशल मीडिया के एक बड़े प्लेटफार्म से दूर हो गए हैं, तो सुनकर बड़ा अचरज होता है. लेकिन ये आश्चर्य ही सच है. दरअसल जिस सोशल मीडिया पर बीते 4 दिनों से कांग्रेस पार्टी अपने कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित कर रही थी, उसी सोशल मीडिया के वाट्सएप का इस्तेमाल छत्तीसगढ़ के दो बड़े नेता नहीं करते हैं.

फेसबुक पर हमें लाइक करें

जी हां जानकर आपको ये हैरानी हो रही होगी, लेकिन नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने खुद को सोशल मीडिया के वाट्सएप प्लेटफार्म से दूर कर दिया है. और इसका खुलासा 13 सितंबर को छत्तीसगढ़ कांग्रेस की वेब पेज और मोबाइल एप की लॉचिंग के मौके पर खुद सिंहदेव और बघेल ने किया.

नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने कहा कि कुछ समय पहले तक वे भी अन्य लोगों की तरह वाट्सएप सहजता से इस्तेमाल करते थे. लेकिन धीरे-धीरे उनका नंबर सैकड़ों ग्रुप में जोड़ लिया गया. और संदेशों की संख्या हजार से बढ़ते-बढ़ते लाख तक पहुँच गई. प्रतिदिन लाख मैसेज से परेशान होकर उन्होंने वाट्सएप का इस्तेमाल ही बंद कर दिया.

ADVERTISEMENT
cg-samvad-small Ad

कुछ इसी तरह की बातें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने भी बताई. पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि उन्होंने भी अब वाट्सएप का इस्तेमापल बंद कर दिया है. क्योंकि रोज 10 हजार से अधिक संदेशों की वजह से परेशान हो गए थे.  धीरे-धीरे उन्होंने स्मार्ट फोन पर इस सोशल प्लेटफार्म से खुद को किनारे कर लिया.

भले ही दोनों ही नेताओं ने सोशल मीडिया के इस प्लेटफार्म से दूरी बना ली हो, लेकिन सोशल मीडिया के प्रशिक्षण कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया की ताकत को समझनी होगी. आज राजनीति में सोशल मीडिया सबसे बड़ी ताकत है. प्रचार-प्रसार के साथ विपक्षियों पर वार और पलटवार का इस माध्यम का ज्यादा इस्तेमाल कार्यकर्ताओं को करना चाहिए.

ADVERTISEMENT
diabetes Day Badshah Ad
Advertisement