WRS कॉलोनी दशहरा उत्सव: छत्तीसगढ़ में हम लोग भांजे में भगवान राम का रूप देखते हैं, वनवासी राम और शबरी के राम के नाम से पूजते हैं- CM बघेल

शिवम मिश्रा, रायपुर। Dussehra 2021: रायपुर के WRS कॉलोनी दशहरा उत्सव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल हुए. इस बार 51 फीट के रावण का दहन होगा, लेकिन इल बार कुंभकरण और मेघनाथ के पुतले नहीं हैं. पुतला दहन के बाद आतिशबाजी हुई.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दशहरा के दिन हम दशानन का पुतला बनाकर ये बताने की कोशिश करते हैं कि बुराई और अहंकार पतन का कारण होता है, जिसके अंदर बुराई , अहंकार हो उसका अंत तय है. गोस्वामी तुलसी दास बताए थे कि रावण रथ में सवार है, लेकिन भगवान राम-लखन और हनुमान पैदल हैं, लेकिन सच इनके साथ है. इसीलिए रावण का वध होता है.

भगवान राम का छत्तीसगढ़ से विशेष नाता और लगाव रहा है. छत्तीसगढ़ में हम लोग भांजे में भगवान राम का रूप देखते हैं और उनका पैर पढ़ते हैं. जब भगवान राम का वनवास हुआ तो वह और कहीं भी जा सकते थे, लेकिन उन्होंने अपने वनवास का सबसे ज्यादा समय छत्तीसगढ़ में ही गुजारा है. इसीलिए हम उन्हें वनवासी राम के रूप में पूजते हैं. छत्तीसगढ़ में हम भगवान राम को वनवासी राम, शबरी के राम के रूप में पूजते हैं.

भूपेश बघेल प्रदेशवासियों को दशहरा पर्व की शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि सबसे अच्छी व्यवस्था राम राज्य की है. हमारा लक्ष्य है राम राज्य की स्थापना करना. असत्य पर सत्य की जीत का यह अवसर है. हम सब अपने भांजे को राम के रूप में पूजते हैं. छग सरकार ने राम वन गमन परिपथ को विकसित करने का निर्णय लिया है. चंदखुरी में मंदिर परिसर को सजाया और संवारा गया है.

जशपुर घटना पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ने कहा कि बहुत ही दर्दनाक घटना है, इस घटना की जितनी निंदा की जाए कम है. सरकार की ओर से अपराधियों को पकड़ लिया गया है. एएसआई को सस्पेंड कर दिया गया है एसपी, कलेक्टर आला अधिकारी और क्षेत्रीय विधायक वहा पहुंचे हैं. स्थानीय लोगों से बातचीत कर रहें हैं.स्थिति नियंत्रण में है.

सार्वजनिक दशहरा उत्सव समिति का यह 52 वां वर्ष है. कोरोना प्रोटोकाल की वजह से बैठने की व्यवस्था आधी हुई है. उत्सव में विधायक कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, महापौर एज़ाज़ ढेबर सहित कई जनप्रतिनिधि मौजूद हैं.

read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।