Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

देवास, प्रदीपसिंह ठाकुर। मध्य प्रदेश के देवास की रहने वाली 90 वर्षीय रेशम बाई जिन्हें सब प्यार से दादी माँ कहते हैं. उन्होंने उम्र के इस पड़ाव में कार चलाना सीखकर सबकों चौंका दिया हैं. तीन महीने की प्रैक्टिस के बाद अब दादी मां हाइवे पर फर्राटे से कार दौड़ती हैं. उनका कार चलाते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर दादी मां के जज्बे को सलाम किया हैं.

दरअसल, 90 वर्षीय दादी रेशम बाई तंवर देवास के ग्राम बिलावली की रहने वाली हैं. 90 साल की उम्र में रेशम बाई हाइवे पर इस तरह दौड़ाती हैं कि जैसे कोई परिपक्व चालक अपने वाहन को चला रहा है. रेशम बाई तंवर के कार चलाने का एक वीडियो बड़ी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमें साफ नजर आ रहा है कि रेशम बाई किस तरह सड़क पर तेज गति से वाहन दौड़ा रही हैं. रेशम बाई आज के युग की तरह एंड्राइड मोबाइल चलाने के साथ गाय को चारा भी डालती हैं.

इसे भी पढ़ेः ‘दिग्गी’ के हिंदू-मुस्लिम के आबादी वाले बयान पर रामेश्वर शर्मा ने किया पलटवार, कहा- 4 बीवी से 40 बच्चों के धंधे को आगे बढ़ाना चाहते हैं ‘चचा’

आपको बता दें कि रेशम बाई ने ट्रैक्टर भी चलाती हैं. वे 90 साल की उम्र में अपना सारा काम खुद कर लेती हैं. उनकी दिनचर्या की बात करें तो वे सुबह उठकर घर का काम करने के बाद पूजा-पाठ करने के बाद मंदिर जाती हैं और उसके बाद खेत जाती हैं.

रेशम बाई के 3 बेटे और दो बेटियां हैं. सभी विवाहित हैं और रेशम बाई दादी और नानी का दायित्व भी निभा रही हैं. उनके बड़े बेटे नारायण सिंह की उम्र ही 68 साल की है. वहीं पोते और पोतियों की उम्र भी 20 से 40 साल के बीच है.

रेशम बाई ने अपने बेटों और पोतों को कार चलाता देख यह मंशा ज़ाहिर कि मुझे भी अब कार चलाना सीखना है. बस फिर क्या था… छोटे बेटे सुरेश ने उम्र के इस पड़ाव पर भी अपनी मां की यह ख़्वाहिश पूरी की और उन्हें मारुती 800 कार चलाना सिखाया. और अब लायसेंस के लिए भी अप्लाय भी कर दिया है.

इसे भी पढ़ेः शर्मनाकः बिल के कुछ पैसे नहीं देने पर अस्पताल प्रबंधक ने शव को बनाया बंधक, खड़ी फसल बेच किसान ने पत्नी की लाश को कराया मुक्त, मामला दर्ज

बता दें कि इतना ही नहीं वह नाती पोतों को देखकर एंड्राइड मोबाइल भी चलाना सीख गई हैं. उन्होंने सिर्फ 3 महीने के अंदर कार चलाना सीखी है, वो भी उनके बेटे ने सिखाई है. किसी प्रशिक्षित चालक से चलाना नहीं सीखी है.

दादी जी का कार चलाते हुए वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद अब प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने भी दादी के जज़्बे की दाद देते हुए ट्वीट कर लिखा है कि उम्र चाहे कितनी भी हो, जीवन जीने का जज़्बा होना चाहिए.

इसे भी पढ़ेः हाईकोर्ट ने उप चुनाव टालने से किया इनकार, कहा- इलेक्शन कमीशन संवैधानिक संस्था, चुनाव कराना उसका अधिकार