Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

मुकेश मिश्रा, अशोकनगर। चंदेरी से 10 किमी दूर गांव प्राणपुर में प्लास्टिक की झोपड़ी में 50 वर्षीय कमला बाई अपने 9 साल के बेटे आशीष और 12 साल की बेटी करिश्मा के साथ कच्चे मकान में रहती है। यह दोनों बच्चे गांव के अन्य बच्चों की तरह अब स्कूल नहीं जा पाते। वजह पूछने पर आशीष और करिश्मा मुस्कराते हुए उम्मीद भरी नजरों से मां कमला बाई की ओर देखते हैं। मगर गरीबी की मजबूरी उनके चेहरे से साफ दिख रही है। यह वही कमला बाई हैं, जिनके घर करीब 12 साल पहले फिल्म अभिनेता आमिर खान (actor Aamir Khan) और एक्ट्रेस करीना कपूर (actress kareena kapoor) ने रात बिताई थी। आमिर खान ने कमला के पति कमलेश कोली को अपना दोस्त बनाया था और निशानी के रूप में अंगूठी दी थी। आठ माह पहले कमलेश कोली की इलाज के अभाव में मौत हो चुकी है। इसके बाद से ही कमला का परिवार आर्थिक तंगी का सामना कर रहा है।

इसे भी पढ़ेः 6 साल की मासूम पर उमड़ा दो परिवारों का प्यार, बच्ची पर जताया अपना-अपना हक, बाल संरक्षण समिति के पास पहुंचा मामला 

बच्चों की पढ़ाई भी छूट गई है। जैसे-तैसे वह बीड़ी बनाकर तो कभी साड़ी बुनकर अपना और बच्चों का पेट भर पा रहीं हैं। इन परिस्थितियों में आज कमला बाई अपने पति के दोस्त आमिर खान की मदद की बाट जोह रहीं हैं, जिससे बच्चों को पढ़ा सकें। कमलाबाई को जब नेताओं से मदद नहीं मिली तो, उन्होंने अपने परिवार के भरण-पोषण के लिए अभिनेता आमिर खान से मदद की गुहार लगाई है।

इसे भी पढ़ेः ‘मामा’ का चाइनीज तड़काः सीएम शिवराज चौपाटी पहुंचे, मंचूरियन, फ्राइड राइस, पनीर चिल्ली और चाऊमीन खाया, फालूदा और काजू बर्फी का भी चखा स्वाद, देखिए VIDEO 

अभिनेत्री करीना कपूर ने इंस्टाग्राम पुरानी यादें ताजा की 
एक दिन पहले ही फिल्म अभिनेत्री करीना कपूर ने अपने इंस्टाग्राम पर यहां की यादें ताजा की हैं। उन्होंने एक वीडियो अपलोड किया, जिसमें आमिर खान प्राणपुर गांव में कमलेश कोली केे घर पर हाथ से बनी हुई साड़ी करीना के लिए खरीद रहे हैं। साड़ी के लिए आमिर ने 6 हजार की बजाय 25 हजार रुपए भी चुकाए थे।

फिल्म थ्री ईडियट्स का प्रमोशन के दौरान गरीब के घर पहुंचे थे आमिर-करीना 
बता दें कि आज से करीब 13 साल पहले दिसंंबर 2009 में आमिर और करीना अपनी फिल्म थ्री ईडियट्स का प्रमोशन करने के लिए चंदेरी पहुंचे थे। यहां आमिर खान ने कमलेश कोली के घर रात बिताई और बुनकरों की परेशानियों के बारे में चर्चा की। साथ ही, आश्वासन दिया था कि वह मुंबई में बुनकरों के लिए एक शोरूम खोलेंगे। जिसमें सभी बुनकर आकर अपनी साड़ियां व अन्य कपड़े बेच सकें। आमिर ने यहां कमलेश कोली और गांव के हुकुम कोली को अपना दोस्त मानते हुए निशानी के रूप में एक-एक अंगूूठी दी और फिल्म के प्रीमियर को देखने के लिए आमंत्रित किया था।

इसे भी पढ़ेः एमपी कोरोना LIVE: पिछले 24 घंटे में 8 की मौत, इंदौर के 21 मरीजों में ओमिक्रॉन के नए वैरिएंट की हुई पुष्टि, एक्टिव केस 72 हजार के पास 

कोरोना के सेकेंड वेव में आमिर के दोस्त की हुई थी मौत 
वहीं कमलेश के छोटे भाई दयाराम कोली बताते हैं कि हम पेशे से बुनकर हैं। बड़े भैया कमलेश को पहले से सांस की बीमारी थी। कोरोना की दूसरी लहर में उनकी तबियत अधिक बिगड़ गई। लॉकडाउन के कारण हमारा काम भी ठप ही पड़ा था। आर्थिक तंगी की वजह से उन्हें कहीं बाहर इलाज के लिए नहीं ले जा पाए। भैया ने दो माह तक चारपाई पर रहने के बाद 31 मई 2021 को दम तोड़ दिया था।

इसे भी पढ़ेः MP में पंचायत चुनाव: आज हाईकोर्ट में अहम सुनवाई, कांग्रेस नेत्री जया ठाकुर ने जल्दी चुनाव करवाने की लगाई है याचिका

आमिर ने दोस्त के दिव्यांग बच्ची के इलाज के दिया था भरोसा

अपने पति को याद करते हुए कमला बाई की आंखें भर आती हैं। वे कहती हैं कि बड़ी बेटी रामवती की शादी हो चुकी है। अब तीन बच्चे हैं। जिनमें 21 साल की संतोषी सबसे बड़ी है। फिर 12 साल की करिश्मा और 9 वर्षीय बेटा आशीष है। संतोषी मानसिक रूप से विक्षिप्त है। आमिर खान ने बेटी के इलाज का भरोसा दिया था। उस समय उम्मीद जागी थी कि संतोषी भी सामान्य बच्चों की तरह हो जाएगी, मगर किसी ने हमारी सुध नहीं ली।

दोस्ती का फर्ज निभाते बच्चों की मदद कर दें आमिर 

कमला बाई ने कहा कि घर में पति के लगाए हैंडलूम पर साड़ी बुन लेती हूं। मगर कोरोना की वजह से साड़ी के ऑर्डर आने भी काफी कम हो गए। ऐसे में मजदूरी कर बीड़ी बनाती हूं। इससे दो वक्त की रोटी का इंतजाम ही मुुश्किल से हो पा रहा है। कमलाबाई का कहना है कि उनके पति को आमिर खान ने दोस्त बनाया था, आज वह अपनी दोस्ती का फर्ज निभाते हुए उनके बच्चों की पढ़ाई का इंतजाम कर दें, तो वे यह एहसान कभी नहीं भूलेंगीं..!!

इसे भी पढ़ेः कब सुधरेगा अमेजन! राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा का किया अपमान, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने DGP को दिए कंपनी पर FIR दर्ज करने के निर्देश

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus