Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर. रायपुर एनेर्जेन लिमिटेड (RIL) के अदाणी फाउंडेशन द्वारा शाला प्रवेश उत्सव में सभी विद्यार्थियों को स्कूल बैग का वितरण किया गया है. ग्राम रायखेड़ा के शासकीय प्राथमिक शाला में आयोजित संकुल स्तरीय शाला प्रवेश उत्सव में प्राथमिक शाला ग्राम पंचायत रायखेड़ा के 180 विद्यार्थियों का स्वागत किया गया. बच्चों को शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ प्रदेश के सभी सरकारी स्कूलों में शाला प्रवेश उत्सव मनाया जा रहा है. जिसमें बच्चों को सरकार की ओर से शाला यूनिफार्म और किताबें मुफ्त में प्रदान किया जाता है. वहीं, उत्सव में अदाणी फाउंडेशन द्वारा अपने सामाजिक सरोकारों के अंतर्गत सभी बच्चों को स्कूल बैग का वितरण भी किया जा रहा है.

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर पर डोगेन्द्र नायक पूर्व नगरपालिक अध्यक्ष उपस्थित हुए, जबकि अध्यक्षता देव्रत नायक पूर्व जनपद अध्यक्ष ने की है. इसके अलावा सरपंच प्रतिनिधि संतोष कुर्रे, हेड मास्टर विष्णु प्रसाद वर्मा, चन्द्रकला वर्मा, पालक शिक्षक संघ के सदस्य मोहन लाल नायक, तामेश्वर प्रसाद वर्मा, दिनेश कुमार और आरईएल से मानव संसाधन विभाग के प्रमुख भूपेंद्र सिंह बैस उपस्थित थे. कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों द्वारा सभी बच्चों को शाला यूनिफार्म, किताब, कॉपी और स्कूल बैग का वितरण किया गया. इसके पूर्व मुख्य अतिथि नायक ने अदाणी फाउंडेशन द्वारा जीर्णोद्धार कराए गए शासकीय माध्यमिक शाला के भवन का उद्घाटन किया.

उल्लेखनीय है कि यह उत्सव रायखेड़ा संकुल के तीनों ग्राम पंचायतों रायखेड़ा, गैतरा, और चिचोली के सभी शासकीय प्राथमिक शालाओं में किया जा रहा है. जिनमें कुल 800 स्कूल बैग का वितरण अदाणी फाउंडेशन द्वारा किया जाएगा. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डोगेन्द्र नायक ने कहा कि ” ग्राम विकास में अदाणी कंपनी का सहयोग परस्पर रहा है और उम्मीद है की इसी तरह सहयोग प्रदान करते रहेंगे. बच्चों को शिक्षक की महत्ता बताते हुए कहा कि “शिक्षक एक ऐसा चिराग है जो हर घर में ज्ञान का दीप जलाते है, और जिनके कंधों पर इस देश की भविष्य को उज्ज्वल करने की जिम्मेदारी होती है और इन्हें हम सब को नमन करना चाहिए.” आरईएल के भूपेंद्र सिंह बैस ने कहा.

इसे भी पढ़ें – BREAKING : महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे कल सदन में साबित करेंगे बहुमत, बुलाया गया विशेष सत्र…

कार्यक्रम के अंत में सीएसआर प्रमुख दीपक सिंह ने कार्यक्रम आयोजन के लिए सभी शिक्षण गण, जन प्रतिनिधि और शासन को शाला प्रवेश उत्सव मनाने के लिए आभार ज्ञापित किया और अदाणी फाउंडेशन की ओर से सीएसआर में ग्राम विकास की गतिविधियों में परस्पर सहयोग करने का अस्वासन दिया. कार्यक्रम में आरईएल से इंद्रनील रॉय चौधरी और शाला के शिक्षकगण के साथ सीएसआर विभाग की प्रीती प्रजापति, खिलेश्वर महमल्ला, दीपाली दास और दाऊलाल कोसले भी उपस्थित थे.

गौरतलब है कि आरईएल, अदाणी फाउंडेशन द्वारा आस पास के 14 ग्राम पंचायतों में शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका संवर्धन और संरचना विकास के कई कार्यक्रम संचालित करता है जिनमें शिक्षा के क्षेत्र में विशेष कर नवोदय स्कूल प्रवेश परीक्षा के लिए विशेष निःशुल्क नवोदय कोचिंग का संचालन पिछले एक दशक से कर रहा है और गत वर्ष तक कुल 45 छात्र और छात्राओं द्वारा नवोदय स्कूल माना रायपुर में पढ़ाई की जा रही है. इससे ना सिर्फ गांव के होनहार बच्चों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्राप्त हो रही है, अपितु उनके माता पिता को भी उनके स्कूल शुल्क से मुक्ति मिल चुकी है. इसके साथ ही अभी हाल ही में संस्थान द्वारा चलाये जा रहे प्रयास कोचिंग के दो छात्र पुलिस बल सेवा में भर्ती हुए हैं.

इसे भी पढ़ें – Jagannath Rath Yatra 2022 : रथयात्रा में करें श्री जगन्नाथ जी के नाम का कीर्तन, श्री कृष्ण की मिलेगी कृपा…

अदाणी फाउंडेशन के बारे में:

1996 में स्थापित, अदाणी फाउंडेशन वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गाँव और कस्बे शामिल हैं. फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है, जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है. वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढ़ांचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है. अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है.