Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

प्रेम नारायण मौर्य, रायगढ़। रायगढ़-खरसिया हाइवे के ग्राम चारभांठा दर्राडोली के पास 14 जनवरी मिली अज्ञात महिला की निर्वस्त्र लाश की न केवल पहचान हो गई है, बल्कि महिला की हत्या करने वाले उसके आशिक को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है. आशिक ने पूछताछ में बार-बार पैसे मांगने और शादी के लिए दबाव बनाने पर महिला की हत्या करना कबूल किया है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, भूपदेवपुर पुलिस को सूचना मिली थी कि रायगढ़-खरसिया हाइवे के ग्राम चारभांठा दर्राडोली के पास करीब 30-35 वर्ष की महिला का शव पड़ा है. सूचना पर भूपदेवपुर थाना प्रभारी ने अपने स्टाफ के साथ ग्राम चारभांठा पहुंचे, जहां भुनेश्वर पटेल के खेत के पास रखे पैरा में 25-30 वर्ष की महिला का ऊपर निर्वस्त्र लाश मिला. महिला के गले को धारदार हथियार से काटने का निशान मिला, वहीं शव से कुछ दूरी में रेल्वे टिकट और देशी-अंग्रेजी शराब का खाली शीशी मिली. मामले में थाना भूपदेवपुर में अज्ञात आरोपी पर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया.

मृतिका के दाहिने हाथ में “अनूप कुमार” गोदना और रेल्वे के टिकट बेलपहाड़ का मिला था. भूपदेवपुर पुलिस की टीम तस्दीक के लिए  बेलपहाड़, ओडिशा रवाना हुई. अनूप कुमार नाम के व्यक्ति और मृतिका की फोटो दिखाकर वारिशानों की पतासाजी की गई, जिसमें मृतिका के बसंती भरा सागर पति स्व. अनूप भरा सागर निवासी प्रेमनगर, चक्रधरनगर, जिला रायगढ़ हाल मुकाम बेलपहाड़ के तौर पर पुष्टि हुई. घटनास्थल पर मिले साक्ष्य, गवाहों और आसपास के सीसीटीवी फुटेज पर चारभांठा के फत्ते सिंह के साथ मृतिका को देखे जाने के सबूत मिले, जिस पर फत्ते सिंह को संदेह पर लेकर पूछताछ किया गया.

आरोपी फत्तेसिंह ने पुलिस को काफी गुमराह करने के बाद उसने सच कबूला और अंतरंग रिश्ते से परेशान होकर बसंती भरा सागर की हत्या करना कबूल किया. आरोपी ने बताया कि वर्ष 2017 से मकान पेंटिंग का काम ठेकेदारी पर करता है. काम के दौरान कंपनी में  साफ-सफाई का काम करने वाली बसंती भरा से जान पहचान हुई. दोनों के बीच मोबाइल में बात शुरू हुई और करीब दो साल से दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ी, जिसका फायदा उठाकर बसंती शादी करने को कहती और दबाव बनाकर मनमाने तरीके से रुपए मांगती थी.

फत्ते सिंह ने पैसे मांगने और शादी करने का दबाव बनाने से वह परेशान हो गया था. इस बीच 11 जनवरी को बसंती रायगढ़ पहुंची, जिसका 13 जनवरी को फत्तेसिंह ने प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराकर वापस घर जाने के लिए कहते हुए अपने घर चारभांठा आ गया. लेकिन उसी शाम को बसंती ने फत्ते सिंह को मोबाइल पर कॉल कर रेलवे स्टेशन में बुलाया, और नहीं आने पर बेलपहाड़ में बदनाम कर देने की धमकी दी.

इसे भी पढ़ें : शराब दुकान से तिजौरी लेकर भागे डकैत, डॉग स्क्वाड के साथ तलाश में जुटी पुलिस…

तब फत्ते सिंह बसंती की हत्या के इरादे से घर से एक प्लास्टिक के थैला में लोहे का कत्ता लेकर मोटरसाइकिल से रायगढ़ गया. रायगढ़ रेल्वे स्टेशन के पास बसंती मिली. बसंती और फत्ते सिंह दोनों शराब पीते थे, फत्ते सिंह रायगढ़ से शराब खरीदकर बसंती को मोटरसाइकिल में बिठाकर दर्रापाली हाईवे के पास ले गया, जहां दोनों शराब पिए. इसी बीच बसंती के नशे का फायदा उठाकर लोहे के कत्ते से उसके गले को काटकर हत्या कर पैरा के नीचे छिपा दिया. इसके बाद मृतिका के कपड़े वगैरह को पैरा में जलाकर साक्ष्य नष्ट करने किया. आरोपी फत्ते सिंह के मेमोरेंडम पर हत्या में प्रयुक्त लोहे का कत्ता और मोटरसाइकिल की जब्ती की गई है.

Read more : Court Remands Suspended IPS Officer in 3-day Police Custody 

">
Share: