बड़ी खबर: लॉकडाउन में पकड़ी गई साढ़े 3 लाख की अंग्रेजी शराब, 4 आरोपी गिरफ्तार, आईपीएस ने टीम के साथ दी थी दबिश

मध्यप्रदेश से लाई गई थी 80 पेटी गोवा शराब.

अरविंद मिश्रा,बलौदाबाजार। कोरोना लॉकडाउन की वजह से छत्तीसगढ़ में सभी तरह की शराब दुकानें बंद पड़ी हैं. इसके बावजूद शराब की अवैध तस्करी की जा रही है, जिस पर लगाम लगाने पुलिस भी जद्देजहद कर रही है. दरअसल आईपीएस अंकिता शर्मा ने अपने टीम के साथ दबिश देकर 80 पेटी अंग्रेजी (गोवा) शराब जब्त किया है. शराब के साथ 4 आरोपियों की भी गिरफ्तारी हुई है. मामला बालौदाबाजार जिले के पलारी थाना क्षेत्र के अमेरा गांव का है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक कुछ दिनों पहले लॉकडाउन के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में गोवा शराब की सप्लाई होने की सूचना मिली थी. ग्राम अमेरा और खम्हरिया के कुछ लोगों के मध्यप्रदेश से शराब छत्तीसगढ़ लाया जाएगा. एक आरोपी को पकड़कर पुलिस ने पूछताछ किया गया, तो उसने बताया कि ग्राम अमेरा के राकेश सोनवानी ने एक झोपड़ी नुमा मकान में भारी मात्रा में अवैध शराब डंप कर रखा गया है.

अंग्रेजी शराब की तस्करी ऐसे समय में की जा रही थी, जब प्रदेश भर की शराब दुकानें बंद बड़ी है. लॉकडाउन के बीच लोगों को शराब नहीं मिल पा रहा है. इसीलिए अधिक रेट पर इस शराब को बेचा जाता और मुनाफाखोरी की जाती. इससे पहले ही देर रात आईपीएस अंकिता शर्मा के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने घर में दबिश देकर 80 पेटी अंग्रेजी गोवा (मध्यप्रदेश निर्मित) बरामद कर लिया. जिसकी कीमत करीब 3 लाख 50 हजार रूपए आंकी गई है.

इसके साथ ही आरोपी राकेश सोनवानी (35 वर्ष), सुदेश सोनवानी (20 वर्ष), उमेश साहू (27 वर्ष) और पिंटू चंद्राकर (25 वर्ष) को गिरफ्तार किया है. उनके खिलाफ धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच की जा रही है. इस कार्रवाई में जिनका अहम योगदान था उनमें आईपीएस अंकिता शर्मा के साथ तारेश साहू प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक, थाना भाटापारा ग्रामीण के आरक्षक सतीश साहू, टिकेश्वर साहू, रवि कंवर, दिनेश जांगड़े, लोरिक शाडिल्य, सुनील पैकरा, मोहन सिदार, उषा पटेल, राकेश हिरवानी और महेंद्र धृतलहरे शामिल रहे.

इसे भी देखें –

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।