26 नंवबर संविधान दिवस: छत्तीसगढ़ के सभी स्कूलों में मनाया जाएगा संविधान दिवस, संविधान की प्रस्तावना के पाठ और संवैधानिक मूल्यों पर होगी चर्चा

रायपुर। 26 नंवबर 2021 को संविधान दिवस के अवसर पर राज्य के सभी स्कूलों में संविधान दिवस मनाया जाएगा. इस अवसर पर कल संविधान की प्रस्तावना का पाठ और संवैधानिक मूल्यों पर चर्चा गोष्ठी, भाषण गतिविधियां आयोजित की जाएगी. इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ आलोक शुक्ला और सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं.

स्कूल शिक्षा विभाग संयुक्त सचिव और एससीईआरटी के संचालक राजेश सिंह राणा ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल घोषणा के अनुरूप एससीईआरटी द्वारा ‘‘भारत का संविधान‘‘ व ‘‘हम भारत के लोग‘‘ नामक लघु पुस्तिका छत्तीसगढ़ पाठ्यपुस्तक की ओर से प्रकाशित कर शासकीय स्कूलों में अध्ययनरत कक्षा एक से आठवी व हम भारत के लोग हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूल में निषुल्क वितरित की गई है.

इन दोनों लघु पुस्तिका में संविधान की प्रस्तावन संक्षिप्त परिचय, मौलिक अधिकार, मौलिक कर्तव्य एवं राज्य के नीति निर्देशक तत्वों को बाल मनोविज्ञान के अनुरूप सचित्र प्रस्तुत किया गया है. यहां यह उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 26 नवबंर 2019 को विधानसभा के विशेष सत्र में घोषणा की थी कि राज्य के सभी स्कूली विद्यार्थी भारतीय संविधान की प्रस्तावना का पाठ करें. उन्हें हमारे संविधान के मूलभूत तथ्यों की जानकारी होनी चाहिए.

एससीईआरटी के संचालक राजेश सिंह राणा ने आगे बताया कि मुख्यमंत्री के घोषणा के अनुरूप भारतीय संविधान से बच्चों को परिचित कराने के लिए स्कूलों में प्रथम सप्ताह संविधान की प्रस्तावना, द्वितीय सप्ताह मौलिक अधिकार व तृतीय सप्ताह संविधान में उल्लेखित मौलिक कर्तव्य चतुर्थ सप्ताह राज्य के नीति निर्देशक तत्वों को समाहित किया गया है. शासन के निर्देशानुसार प्रति सोमवार राज्य के समस्त शैक्षिक संस्थाओं मे प्रार्थना के उपरांत संविधान के प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी.

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देश में कहा गया है कि सभी शासकीय कार्यालयों स्कूलों महाविद्यालयों संस्थाओं सार्वजनिक उपक्रमों में 26 नवंबर 2021 को संविधान के अवसर पर 11ः00 बजे संविधान की प्रस्तावना ऑनलाइन पाठन के लिए निर्मित वेब पोर्टल द्वारा पढ़ाया जाएगा.  जहां कम्प्यूटर, मोबाइल इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध ना हो वहां पूर्व की भांति आॅफलाइन मोड में संविधान के प्रस्तावना का पाठन कराया जाएगा.

इस संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डाॅ. आलोक शुक्ला, सचिव डाॅ. कमलप्रीत सिंह ने सभी संयुक्त संचालकों, जिला शिक्षा अधिकारियों, जिला मिशन समन्वयक, डाइट प्राचार्य व जिला साक्षरता मिशन के परियोजना अधिकारियों को प्रत्येक स्तर पर संविधान दिवस मनाए जाने के प्रसारित निर्देश दिए हैं.

 

इसे भी पढे़ं : सुरक्षाकर्मी की काटी जा रही छुट्टियां, विरोध में परिवार के साथ बैठा धरने पर, जानिए क्या है मामला

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।