देश के किसानों ने सिखा दिया कि धैर्य के साथ हक की लड़ाई कैसे लड़ी जाती है: CM केजरीवाल

नई दिल्ली। आज किसान आंदोलन को एक साल पूरा हो गया है. इस मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट किया है. उन्होंने कहा कि ”आज किसान आंदोलन को पूरा एक साल हो गया है. इस ऐतिहासिक आंदोलन ने गर्मी-सर्दी, बरसात-तूफान के साथ अनेक साज़िशों का भी सामना किया. देश के किसान ने हम सबको सिखा दिया कि धैर्य के साथ हक़ की लड़ाई कैसे लड़ी जाती है. किसान भाइयों के हौसले, साहस, जज़्बे और बलिदान को मैं सलाम करता हूं.”

आपको बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने 19 नवंबर को देश को संबोधित करते हुए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा की थी. पीएम ने इस मुद्दे पर सालभर से आंदोलन कर रहे किसानों से घर वापस लौटने की भी अपील की. पीएम मोदी ने कहा था कि इस महीने के अंत में शुरू हो रहे शीतकालीन संसद सत्र के दौरान तीनों कृषि कानूनों को सदन के जरिए वापस ले लिया जाएगा.

तीनों कृषि कानून वापस, जानिए PM मोदी के राष्ट्र के नाम संबोधन की खास-खास बातें

 

15 अगस्त और 26 जनवरी के तरह याद किया जाएगा- केजरीवाल

इस पर अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि आज सिर्फ किसानों की नहीं, बल्कि जनतंत्र की जीत हुई है. आज किसानों ने सभी सरकारों को बता दिया कि जनतंत्र में हमेशा जनता की ही बात सुननी होती है. उन्होंने कहा था कि इतिहास में इस दिन को 15 अगस्त और 26 जनवरी की तरह सुनहरे अक्षरों में लिखा जाएगा. उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार को किसानों के संघर्ष के सामने झुकना पड़ा और तीनों काले कानून वापस लेने पड़े. उन्होंने कहा था कि पूरी दुनिया के इतिहास में इससे बड़ा या लंबा शायद ही कोई आंदोलन हुआ हो, जो इतने शांतिपूर्ण तरीके से हुआ. ठंड, धूप, बरसात में भी किसान भाई डटे रहे. इस आंदोलन को तोड़ने की भी कोशिश हुई, लेकिन किसानों की जीत हुई.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।