टाटा प्रोजेक्ट्स की डायल 112 सेवा का उपयोग पहुंचा 6 लाख के पार, एकीकृत आपातकालीन प्रणाली को लागू करने वाला छत्तीसगढ़ देश का का पहला राज्य

रायपुर। भारत की सबसे तेजी से बढ़ रही और सर्वाधिक प्रशंसित इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियों में से एक, टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड ने आज घोषणा की कि छत्तीसगढ़ की महत्वाकांक्षी डायल 112 सेवा पर सितंबर 2018 में इसके शुरू किये जाने से लेकर अब तक छः लाख (लगभग 6.1 लाख) से अधिक सेवा अनुरोध (काॅल्स फाॅर सर्विस या सीएफएस) किया जा चुका है.

दरअसल, यह संख्या ऐसी वास्तविक काॅल्स की है जहां डायल 112 सेवा के जरिए लोगों ने सहायता मांगी और विभिन्न स्थितियों में उन्हें सहायता प्रदान की गयी. नागरिकों की सहायता के लिए सरकार ने डायल 112 सेवा शुरू की है जिसमें नागरिक 112 नंबर पर 24 घंटे काॅल कर आपातकालीन चिकित्सा, अपराध, आगलगी, प्राकृतिक आपदा और यहां तक मनोवैज्ञानिक समस्या जैसी स्थितियों में तुरंत सहायता के लिए अनुरोध कर सकते हैं.

छत्तीसगढ़ भारत का इकलौता ऐसा राज्य है जिसने एनईआरएस (देशव्यापी आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली) के दिशानिर्देशों के अनुसार अपने यहां एकीकृत आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली (एकीकृत कमांड एवं कंट्रोल सुविधा सहित) लागू की है. छत्तीसगढ़ पुलिस विभाग के लिए एकीकृत आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली (एकीकृत कमांड एवं कंट्रोल सुविधा सहित) को टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड संभालता है. अब तक, प्रदेश के 27 में से 11 जिलों में इस प्रोजेक्ट को लागू किया जा चुका है.पहले अनेक राज्यों में आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणालियां मौजूद थीं, लेकिन उन प्रणालियों में अलग-अलग आपातकालीन स्थितियों के लिए अलग-अलग नंबर पर काॅल करना होता था, जैसे -चिकित्सा के लिए कोई एक नंबर, अपराध एवं पुलिस सहायता के लिए कोई अन्य नंबर, और फायर ब्रिगेड के लिए कोई और नंबर आवंटित थे. आज कुछ अन्य राज्यों ने भी छत्तीसगढ़ का अनुसरण करते हुए इस तरह के प्रोजेक्ट्स को लागू किया है, लेकिन छत्तीसगढ़ इस तरह के प्रोजेक्ट को लागू करने वाला भारत का पहला प्रदेश था.

टाटा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड के बारे में

टाटा प्रोजेक्ट्स भारत में सबसे तेजी से बढ़ती और सबसे प्रशंसित इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनियों में से एक है. इसे बड़े और जटिल शहरी और औद्योगिक बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को क्रियान्वित करने में विशेषज्ञता हासिल है. टाटा प्रोजेक्ट्स अपने चार स्ट्रैटेजिक बिजनेस ग्रुप्स (एसबीजी) – इंडस्ट्रियल्स सिस्टम्स एसबीजी, कोर इंफ्रा एसबीजी, अर्बन इंफ्रा एसबीजी और सर्विसेज एसबीजी के माध्यम से परिचालन करता है.

कंपनी बिजली उत्पादन संयंत्रों, बिजली पारेषण और वितरण प्रणाली, पूरी तरह से एकीकृत रेल और मेट्रो प्रणाली, वाणिज्यिक भवनों और हवाई अड्डों, रासायनिक प्रक्रिया संयंत्रों, जल और अपशिष्ट जल प्रबंधन समाधान, पूर्ण खनन और धातु शोधन के लिए टर्नकी संपूर्ण समाधान प्रदान करती है. कंपनी विश्व स्तर की परियोजना प्रबंधन तकनीकों का उपयोग करते हुए समय पर परियोजनाओं को पूरा करने के लिए प्रेरित है और यह सुरक्षा एवं टिकाऊपन के मानकों के साथ कतई समझौता नहीं करती है.

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।