एससीईआरटी में राज्य स्तरीय आंकलन केन्द्र की स्थापना, कार्य संपादन के लिए टास्क फोर्स का गठन

रायपुर। प्रदेश में विद्यार्थियों को गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रदान करने और शिक्षा के स्तर को बेहतर बनाने के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद में एक आंकलन केन्द्र का गठन किया गया है। राज्य स्तर पर आयोजित किए जाने वाले आकलन के मानकों का निर्धारण करते हुए रूपरेखा तैयार करना, क्रियान्वयन करना और प्राप्त आंकड़ों का विश्लेषण कर आवश्यकता अनुसार शिक्षकों को जागरूक करना एवं कक्षागत शिक्षण में मदद करना आदि कार्य संपादन के लिए टास्क फोर्स का गठन किया गया है। टास्क फोर्स का उद्देश्य राज्य स्तर पर आयोजित किए जाने वाले समस्त शैक्षिक कार्याें के लिए कार्ययोजना, रूपेरखा तैयार कर विद्यार्थियों और शिक्षकों के लिए सुदृढ़ सपोर्ट सिस्टम विकसित किया जाना है।

इस टास्क फोर्स के अंतर्गत विभिन्न कार्यों को संपादित करने के लिए समन्वयक और उनके सहयोग के लिए सदस्य नियुक्त किए गए हैं। टास्क फोर्स को केलेण्डर का प्रबंधन, आंकलन, प्रश्न बैंक का निर्माण, डेटा विश्लेषण और रिपोर्टिंग, शिक्षक प्रशिक्षण एवं अभ्यास, क्रियात्मक अनुसंधान और संचार, प्रचार-प्रसार की जिम्मेदारी सौंपी गई है। केलेण्डर के प्रबंधन कार्य के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के सहायक संचालक वी.के तिवारी को समन्वयक और पाठ्यपुस्तक निगम के महाप्रबंधक अशोक चतुर्वेदी को सदस्य बनाया गया। आंकलन कार्य के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की सहायक प्राध्यापक श्रीमती अनुपमा नलगुंडवार को समन्वयक और माध्यमिक शिक्षा मण्डल की अर्चना वर्मा को सदस्य बनाया गया है।

प्रश्न बैंक निर्माण कार्य के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की सहायक प्राध्यापक आई संध्या रानी को समन्वयक और माध्यमिक शिक्षा मण्डल प्रीति दुबे को सदस्य बनाया गया है। डेटा विश्लेषण और रिपोर्टिंग कार्य के लिए लोक शिक्षण संचालनालय के सहायक संचालक राज किशोर तिवारी को समन्वयक और समग्र शिक्षा के सहायक संचालक शैलेन्द्र वर्मा एवं राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के व्याख्याता  संतोष तंबोली को सदस्य बनाया गया। शिक्षण प्रशिक्षण एवं अभ्यास कार्य के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की सहायक प्राध्यापक विद्यावती चंद्राकर को समन्वयक और राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद सहायक प्राध्यापक पी.आर. साहू को सदस्य बनाया गया है। क्रियात्मक अनुसंधान कार्य के लिए राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की सहायक प्राध्यापक ज्योति चक्रवर्ती को समन्वयक और डाइट दुर्ग के सहायक प्राचार्य डॉ. शिशिरकन्ना भट्टाचार्य को सदस्य बनाया गया। संचार और प्रचार-प्रसार कार्य के लिए समग्र शिक्षा के सहायक संचालक एम. सुधीश को समन्वयक और राज्य साक्षरता मिशन के सहायक संचालक प्रशांत पाण्डेय को सदस्य बनाया गया है।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।