धोखाधड़ी के मामले में पूर्व जनपद सीईओ गिरफ्तार, तीन आरोपी पहले ही जा चुके हैं जेल, जानिए पूरा मामला…

अरविन्द मिश्रा, बलौदाबाजार। धर्मगुरु के नाम पर समाज के आयोजन के लिए शासन से मिली राशि की हेराफेरी करने के मामले में सिमगा पुलिस ने आरोपी पूर्व जनपद सीईओ पंकज देव को गिरफ्तार किया है. मामले में पहले ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. आरोपियों ने मिलकर करीबन 10 लाख रुपए का फर्जीवाड़ा किया था.

जानकारी के अनुसार, ग्राम दामाखेड़ा में वर्ष 2020 में श्री धनी धर्मदास साहब जी के 625वें प्राकट्य महोत्सव के लिए शासन ने व्यवस्था खर्च के लिए 10,00,000 रुपए दिया गया था. ग्राम सरपंच पूर्णिमा देवांगन, ग्राम सचिव राजू देवांगन व अन्य लोगों ने मिलकर फर्जीवाड़ा करते हुए शासन से मिली रकम का आहरण खर्च कर लिया था. मामले में संस्था अध्यक्ष महाराष्ट्र के नागपुर जिला के थाना कलौथ, ग्राम सूरजगांव निवासी प्रकाश पिता नत्थू जी थपके ने आवेदन दिया था.

आवेदन पत्र पर 15 जून 2022 को अपराध क्र. 268/2022 धारा 467, 468, 471, 120 बी, 212, 34 भादवि भी जोड़ा गया है. प्रकरण की जांच करते हुए सिमगा पुलिस ने अपराध में संलिप्तता पाए जाने पर आरोपी दुर्गेश देवांगन, लिखो राम देवांगन और श्रेयांश देवांगन को पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. वहीं सिमगा जनपद पूर्व सीईओ पंकज देव को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है. इसके साथ ही मामले में आरोपी ग्राम सरपंच पति और सचिव की सरगर्मी से तलाश जा रही है.

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
लल्लूराम डॉट कॉम की खबरें English में पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button