पिंजरे में कैद तेंदुआः बछड़े का शिकार करने के बाद विभाग ने ड्रोन से ली लोकेशन, उज्जैन से आई विशेष टीम ने पकड़ा

प्रदीप सिंह ठाकुर, देवास। बोरपड़ाव क्षेत्र में बछड़े के शिकार करने वाले तेंदुए को वन विभाग ने पकड़ लिया है। उज्जैन से पहुंची विशेष टीम ने तेंदुआ को पिंजड़े में कैद कर लिया। तेंदुए को पकड़ने के लिए ड्रोन से उसकी लोकेशन ली गई थी। अब तेंदुए को खिवनी के जंगल में छोड़ा जाएगा।

दरअसल देवास जिले के सुदूर इलाके पुंजापुरा रेंज में बोरपड़ाव के पीपरी-उदयनगर मुख्य मार्ग पर सोमवार को तेंदुआ ने बछड़े का शिकार किया था। सुबह तेंदुए के रेस्क्यू के लिए उज्जैन से एक विशेष टीम पहुंची थी। रेस्क्यू टीम ने किसान नवरंग पिता मदनलाल के खेत पर पिंजरा लगाया, जिसमें शाम करीब 5 बजे तेंदुआ कैद हो गया।

रेस्क्यू दल के मुताबिक सुबह दल ने वन अमले के साथ तेंदुए को पकड़ने के लिए पहले ड्रोन कैमरे की मदद से खेतों में उसका पता लगाने का प्रयास किया। क्षेत्र में मूवमेंट दिखने के बाद एक पिंजरा खेत में लाया गया, जिसमें शाम को वह कैद हो गया।

ग्रामीणों ने ली राहत की सांस
आपको बता दे कि बागली के बोरपड़ाव क्षेत्र में तेंदुए की आहट से ग्रामीण भयभीत थे। जंगल से लगे ग्रामीण क्षेत्र में लगातार तेंदुए का मूवमेंट दिखाई दे रहा था।जिसकी सूचना ग्रामीणों ने वन अमले को दी थी। उसके बाद उसने एक बछड़े का भी शिकार किया था। तेंदुए के पकड़े जाने के बाद दहशतज़दा ग्रामीणों को अब राहत की सांस ली है।

पांच सदस्यीय रेस्क्यू टीम ने पकड़ा
वन विभाग बागली के एसडीओ अमित सोलंकी ने बताया कि उज्जैन से पांच सदस्यीय रेस्क्यू टीम और वन अमले की मदद से तेंदुए को पिंजरे में कैद कर लिया है, उसे अब खिवनी के जंगल में छोड़ा जाएगा।

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।