4 पहाड़ी कोरवाओं की मौत पर नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने जताया दुख, कहा- राष्ट्रपति के दत्तक पुत्रों की लगातार हो रही मौतें बेहद ही चिंतनीय

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने जशपुर जिले के बगीचा तहसील के सरधापाठ पकरीटोली में राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र पहाड़ी कोरवा जनजाति के 4 सदस्यों पर दुख जताया है. उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार राष्ट्रपति के दत्तक पुत्रों के संरक्षण के दिशा में कुछ भी नहीं कर रही है. यही कारण है प्रदेश में लगातार इनके हो रही मौतों के बाद भी प्रदेश सरकार द्वारा इनके सरंक्षण के लिए कोई ठोस पहल नहीं किया जा रहा है.

इससे पूर्व भी राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र संरक्षित पंडो जनजाति के 20 लोगों की मौतें हो चुकी है. जिसके पीछे की वजह कुपोषण व स्वास्थ्य कारणों को माना गया है. उन्होंने कहा कि कुपोषण के नाम पर केवल खुद की प्रसिध्दि के लिए अभियान चला रहे है और जमीनी हकीकत कुछ और ही है. हालात जिस तरह के निर्मित हुए है इससे यह स्पष्ट होता है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार आम लोगों के साथ ही ऐसे संरक्षित जनजाति के लोगों को भी बुनियादी सुविधा देने में असफल है.

नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश में जनवरी 2021 से लेकर अब तक पहाड़ी कोरवा जनजाति के 15 लोगों की मौत हो चुकी है, लेकिन इन सबके बाद भी स्थानीय प्रशासन ने सबक लेकर कोई भी बेहतर कार्य नहीं किया है. पाॅलिटिकल पर्यंटनकारी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल असम के बाद अब यूपी में मस्त है और छत्तीसगढ़ की जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है.

इन प्रभावित इलाकों में कोई भी जिम्मेदार व्यक्ति नहीं पहुंच रहा है. जिसके कारण अव्यवस्था का आलम है और मौतें लगातार आम होती जा रही है. उन्होंने मृतकों के परिजनों को तत्काल आर्थिक सहायता के साथ बेहतर चिकित्सा सुविधा के लिए उन इलाकों में चिकित्सकों की टीम भेजने की मांग की है.

read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।