समीक्षा बैठक में भड़के महापौर, कहा- अब तक जो चला, अब नहीं चलेगा, चेहरा देखकर राजस्व वसूली बंद करें…

सत्यपाल राजपूत, रायपुर. महापौर एजाज ढेबर ने धीमी राजस्व वसूली पर नाराजगी जताई है. उन्होंने राजस्व अमले के अधिकारियों व कर्मचारियों को तत्काल अपनी कार्यशैली बदलने एवं नगर निगम के हित में अधिक से अधिक राजस्व वसूलने फील्ड पर उतरकर कार्य करने के निर्देश दिए. महापौर ने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में बन रहे नये मकानों सहित नियमानुसार अवैध कालोनियों गोडाउन सहित व्यावसायिक क्षेत्र में अभियान चलाकर राजस्व वसूली प्रतिदिन करें या निगम अधिकारी व कर्मचारी अपनी कार्यशैली बदल लें अन्यथा रायपुर नगर निगम से कही दूसरी जगह अपना तबादला करवा लें.

सोमवार को नगर निगम रायपुर के महापौर एजाज ढेबर एवं आयुक्त सौरभ कुमार ने अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य, उपायुक्त मती कृष्णा खटीक, सभी जोन कमिश्नरों, जोन सहायक राजस्व अधिकारियों, राजस्व निरीक्षकों, सहायक राजस्व निरीक्षकों, मोहर्रिरों की उपस्थिति में नगर निगम रायपुर के राजस्व विभाग की वर्तमान राजस्व वसूली पर समीक्षा बैठक लेकर करते हुए राजस्व वसूली तत्काल प्रभावी बनाने आवश्यक निर्देष दिए. इस दौरान पार्षद अजीत कुकरेजा, पूर्व पार्षद राधेश्याम विभार भी उपस्थित थे.

महापौर ढेबर ने सभी जोन कमिश्नरों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे प्रतिदिन राजस्व वसूली अधिकाधिक करना व्यक्तिगत रूचि लेकर कार्य करें. जोन कमिश्नर मार्च के अंत तक सर्वोच्च प्राथमिकता राजस्व वसूली को दें. हर दो-तीन दिन में जोन के राजस्व अमले को बुलाकर उनकी दैनिक राजस्व वसूली की समीक्षा करके उनके लिये अधिकाधिक वसूली के लिए टैक्स का टारगेट निर्धारित करें एवं तय किये गए टारगेट को शत प्रतिशत पूर्ण करवाये. महापौर ने नगर निगम के सभी बड़े बकायेदारों एवं छुटे हुए बड़े बकायेदारों से कड़ाई के साथ अभियान चलाकर शत प्रतिशत राजस्व वसूली निगम हित करने का निर्देश दिया.

आयुक्त कुमार ने कहा कि काफी समय से लोगों में फरवरी, मार्च में ही संपत्तिकर अदा करने की आदत विकसित हो गई है. इस आदत को निगम हित में राजस्व अमला बदलने का करें. नगर निगम का राजस्व अमला निगम क्षेत्र के समस्त खाली भूखण्डों में वास्तविक आधार पर करारोपण कर वसूली सुनिश्चत करने का कार्य अभियान चलाकर करें. बड़े बकायेदारों से नियमानुकुल कड़ाई के साथ राजस्व वसूली करने शासन द्वारा प्रदत्त अधिकारों का निगम हित में सदुपयोग किया जाए.

loading...

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।