VIDEO: डीजीपी अवस्थी की दरबार में बस्तर रेंज कांस्टेबलों के परिजनों ने लगाई फरियाद, वेतन विसंगति सहित कई मांगों पर सौंपा ज्ञापन

रायपुर– पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने पुलिस मुख्यालय में राज्यभर से आए पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों से मिलकर समस्याएं सुनी. शुक्रवार को प्रदेशभर से लगभग 400 से अधिक की संख्या में पुलिस मुख्यालय में आए पुलिस अधिकारियों और परिजनों ने डीजीपी डीएम अवस्थी को अपनी समस्याएं से अवगत कराते हुए उन्हें आवेदन पत्र दिया. डीजीपी ने आश्वस्त किया कि इन आवेदनों का शीघ्रता से निराकरण किया जाएगा. शासकीय नियमों के अनुरूप पुलिस और उनके परिजनों की समस्याओं का समाधान किया जाएगा.

बस्तर से आए पुलिस कर्मियों और उनके परिवार के सदस्यों ने डीजीपी से मिलकर सहायक आरक्षकों को मिलने वाली वेतन विसंगतियों सहित अपनी-अपनी समस्याओं को बताया. अवस्थी ने इन परिजनों को कहा कि शासकीय नियमों के अनुसार समस्त लाभ सहायक आरक्षकों को प्रदान किए जाएंगे. साथ ही आरक्षकों और सहायक आरक्षकों कके बीच वेतन विसंगतियों का परीक्षण कराकर शास स्तर से निराकरण करने का प्रयास किया जाएगा.

डीजीपी डीएम अवस्थी ने कहा कि 4 सौ से अधिक लोग मुलाकात करने आये थे. बस्तर से भी लोग आए थे. सबकी समस्याएं सुनी और निराकरण नियमानुसार किया जाएगा. सहायक कॉन्स्टेबल की मांगों पर परीक्षण करूंगा. नियम कायदे को देखकर निर्णय लिया जाएगा. एसपी और आईजी को भी समस्याएं सुनने को कहा है, जो उनके लेबल की समस्याएं है वो सुनेंगे. अगर वहां समस्याओं का हल नहीं हुआ तो वो पास आए. पुलिस कर्मियों के परिजन समस्याओं को लेकर आए है अच्छा है. आज ही हमने निर्देश जारी किए हैं कि सभी एसपी मंगलवार को अपने यहां समस्याएं सुनेंगे और आईजी बुधवार को, और यदि उनसे संबंधित समस्याओं का हाल नहीं होगा तो वो शुक्रवार से मुझसे मिल सकते हैं.

अनुष्का एक्का को बाल आरक्षक के पद पर मिली नियुक्ति

डीजीपी के समक्ष बलौदाबाजार जिले के प्रधान आरक्षक रतन लाल स्वाई ने पूर्व से गंभीर बीमारी में सर्जरी होने और शारीरिक तकलीफों के कारण कार्यालयीन कार्य कराए जाने का आग्रह किया. पुलिस अधीक्षक बलौदा बाजार भाटापार को प्रधान आरक्षक की ड्यूटी मैदानी क्षेत्र से अलग करते हुए कार्यालयीन कार्य कराए जाने के निर्देश दिए.

डीजीपी ने रामानुजगंज –बलरामपुर (सरगुजा) जिले के आरक्षक अजय एक्का  12वीं  वाहिनी की बेटी अनुष्का एक्का को पुलिस रेग्युलेशन के पैरा 60के तहत जिला रायगढ़ में रिक्त बाल आरक्षक के पद पर नियुक्त की अनुमति प्रदान की गई.

बता दें कि डीजीपी बनने के बाद डीएम अवस्थी पुलिस कर्मियों की समस्याओं का निराकरण के लिए जनदर्शन लगा रहे हैं. पिछले शुक्रवार को डीजीपी के दरबार में 21 पुलिस कर्मियों ने अपनी फरियाद रखी थी. पुलिस कर्मियों की समस्या सुनने के बाद डीजीपी ने उनके आवेदनों पर तुरंत कार्रवाई करते हुए शनिवार को स्थापना बोर्ड की बैठक कराकर उन मामलों का निराकरण किया.  डीजीपी ने 14 प्रकरणों को सही पाते हुए तत्काल उन पर एक्शन लिया और पुलिस कर्मियों का तबादले पर मुहर लगा दी.

देखिए वीडियो-

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।