Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

कुमार इंदर, जबलपुर। निकाय और पंचायत चुनाव में आरक्षण को लेकर चल रही लड़ाई खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। आज नगर निगम चुनाव को लेकर आरक्षण की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है लेकिन आरक्षण प्रक्रिया पर भारी आपत्ति दर्ज कराई जा रही है। जबलपुर में नगरीय निकाय चुनाव को लेकर आरक्षण की प्रक्रिया संपन्न कर ली गई है।

आरक्षण प्रक्रिया के अनुसार जबलपुर के 79 वार्ड में से 11 सीट एससी के लिए रिजर्व की गई है, वहीं 4 सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित जबकि ओबीसी वर्ग के लिए 20 सीट रिजर्व की गई है। ओबीसी आरक्षण के तहत नगर निगम में एक वार्ड जनसंख्या के हिसाब से बढ़ाया जाना था। इसके तहत लॉटरी सिस्टम से पर्ची उठाकर 51 नंबर वार्ड रविन्द्र टैगोर वार्ड को ओबीसी वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। इस वार्ड में महिला एवं पुरूष दोनों दावेदारी कर सकते हैं। आरक्षण में कोई खास बदलाव नहीं किए गए हैं। साल 2020 में लागू किया गयाआरक्षण ही इस बार रिपीट कर दिया गया है।

निकाय चुनाव में आरक्षण प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस ने आपत्ती दर्ज कराई है। कांग्रेस ने आरक्षण प्रक्रिया को मजाक बताया है। कांग्रेस प्रवक्ता टीकाराम कोस्टा ने कहा कि आरक्षण प्रक्रिया के नाम पर साल 2020 का पुराना आरक्षण लागू कर दिया गया। वहीं कांग्रेस का कहना है कि, ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी भी राजनितिक दल को बुलाए बिना ही आरक्षण प्रक्रिया अपना ली गई।

इस आरक्षण प्रक्रिया पर आपत्ति जताते हुए कांग्रेस विधि प्रकोष्ठ एडवोकेट सतेंद्र जोशी ने कहा कि आरक्षण प्रक्रिया के नाम पर महज मजाक किया गया है। सतेंद्र जोशी का कहना कि, आरक्षण प्रक्रिया में किसी भी तरह के नियम लागू नहीं किए गए हैं, ना ही किसी तरह की गाइडलाइन लागू की गई है। प्रशासन ने साल 2020 का आरक्षण उठा कर लागू कर दिया हैं। उनका कहना है कि अगर जरूरत पड़ी तो वो इस मामले को लेकर कोर्ट भी जा सकते है। कांग्रेस इस बात को लेकर एक शिकायत पत्र भी दिया है

कुछ ऐसा है वार्ड वार गणित
अनुसूचित जनजाति के लिए 11 वार्ड रिज़र्व किए गए हैं जिसमें से 53, 58,66,44,48, 52,70, 29, 62,63 और 9 नंबर वार्ड को आरक्षित किया गया है। वहीं अनुसूचित जनजाति के लिए कुल 4 सीटें आरक्षित की गई है यदि इसमें वार्ड वार देखे तो वार्ड नंबर 75,70, 64,77 नंबर वार्ड को आरक्षित किया गया है जबकि अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए कुल 20 सीटें आरक्षित की गई है जिसमें वार्ड नंबर 1,57, 67,27 10,71, 17, 20, 36,24,38, 74,05,02, 54,37, 28,03, 59 और 65 नंबर वार्ड शामिल है। वहीं अनारक्षित महिला वर्ग के लिए बात करें तो कुल 22 सीटें रखी गई है जिसमें वार्ड वार की स्थिति कुछ ऐसी है 13, 14,19, 21,30, 33,50, 60,69,72,76,04,06,07, 12,15,22,25,31,41,68 और 79 नंबर वार्ड शामिल है।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus