Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली. तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) पर तीखा हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को तेलंगाना को परिवार शासन और तुष्टीकरण से मुक्त कराने का आह्वान किया. बेगमपेट हवाई अड्डे पर भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वंशवादी राजनीति और परिवार केंद्रित दल देश के लोकतंत्र और युवाओं की सबसे बड़ी दुश्मन हैं.

उन्होंने तेलंगाना के लोगों से परिवार केंद्रित दलों के शासन को समाप्त करने के लिए आंदोलन को आगे बढ़ाने की अपील करते हुए कहा कि इससे राज्य के तेजी से विकास के द्वार खुलेंगे. उन्होंने दावा किया कि तेलंगाना में परिवर्तन निश्चित है और राज्य में भाजपा निश्चित रूप से सत्ता में आएगी.

तुष्टिकरण का केंद्र बनाना चाह रहे कुछ लोग- मोदी

उन्होंने कहा कि तेज धूप में भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्साह दर्शाता है कि पार्टी की मेहनत रंग ला रही है. उन्होंने टीआरएस का नाम लिए बिना कहा, “वे तेलंगाना को तुष्टिकरण का केंद्र बनाना चाहते हैं. हम तेलंगाना को एक प्रौद्योगिकी केंद्र बनाना चाहते हैं. वे पारिवारिक शासन जारी रखना चाहते हैं, हम 21वीं सदी की सोच के अनुरूप और तेलंगाना के युवाओं के साथ काम करके तेलंगाना को नई ऊंचाइयों पर ले जाना चाहते हैं”.

साजिश में सफल नहीं हो सकते वे लोग- मोदी

पीएम ने कहा कि जिन लोगों ने देश को बांटने की साजिश रची और तेलंगाना पर दमन के साथ शासन करने का सपना देखा, वे न तो आजादी के समय सफल हुए और न ही अब सफल होंगे. उन्होंने कहा, “भाजपा की लड़ाई इन साजिशों और इस सोच के खिलाफ है”.

परिवार केंद्रीत दल को गरीबों की चिंता नहीं- मोदी

मोदी ने कहा कि तेलंगाना के उज्‍जवल भविष्य के लिए तेलंगाना आंदोलन के दौरान हजारों लोगों ने संघर्ष किया. उन्होंने कहा, “देश ने देखा है कि जब एक परिवार को समर्पित पार्टी सत्ता में आती है, तो भ्रष्टाचार उसकी सबसे बड़ी पहचान बन जाता है. तेलंगाना के लोग देख रहे हैं कि परिवार केंद्रित दल खुद को कैसे विकसित करते हैं, अपने सदस्यों का खजाना भरते हैं और गरीबों के लिए कोई चिंता नहीं है.

वे समाज को विभाजित करने की योजना बना रहे- मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी राजनीति केवल यह सुनिश्चित करने के लिए है कि एक परिवार सत्ता में रहे और लूट जारी रहे. साथ ही इसके लिए वे समाज को विभाजित करने की योजना बना रहे हैं. वे चाहते हैं कि समाज पिछड़ा रहे ताकि वे इसका लाभ उठा सकें”.

तेलंगाना को ईमानदार सरकार की जरुरत

पीएम मोदी ने कहा, “तेलंगाना को एक प्रगतिशील और ईमानदार सरकार की जरुरत है और केवल भाजपा ही इसे प्रदान कर सकती है”. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव के कथित अंधविश्वास को लेकर भी उन पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “हम तेलंगाना को अंधविश्वासी लोगों से बचाना चाहते हैं. 21वीं सदी में वे अंध विश्वास के गुलाम बन गए हैं और वे किसी को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं”.

इसे भी पढ़ें : दिल्ली के उपराज्यपाल विनय सक्सेना का शपथग्रहण समारोह, सही जगह सीट नहीं मिलने से नाराज बीजेपी सांसद डॉ हर्षवर्धन वापस लौटे