23 वर्षों से सहायक शिक्षकों को नहीं मिली है क्रमोन्नति और पदोन्नति, छग फेडरेशन ने अपनी मांग को लेकर किया प्रदर्शन

सुप्रिया पांडे,रायपुर। पिछले 23 वर्षों से सहायक शिक्षक एक ही पद पर कार्य कर रहे हैं. इतने सालों में उन्हें ना क्रमोन्नति मिली है, ना ही पदोन्नति दी गई. छत्तीसगढ़ फेडरेशन अपनी इसी एक सूत्रीय मांग को लेकर मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को भी अवगत करा चुका है. इसके बावजूद भी कोई कार्रवाई नहीं करने से सहायक शिक्षक नाराज हैं.

यही वजह है कि सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति दूर कर क्रमोन्नति और पदोन्नति की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ फेडरेशन ने आज बूढ़ातालाब में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया. प्रदर्शन करने के बाद सहायक शिक्षक मौन रैली निकालकर मुख्यमंत्री निवास तक पैदल मार्च करेंगे. छत्तीसगढ़ शिक्षक सहायक संघ के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने बताया कि छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षकों की एक सूत्रीय मांग है कि वेतन विसंगति दूर की जाए और जल्द ही क्रमोन्नति व पदोन्नति भी की जानी चाहिए.

प्रांतीय प्रवक्ता बसंत कौशिक ने बताया कि छत्तीसगढ़ के सहायक शिक्षक अपने संविलियन से पूर्व इस विभाग में विगत 23 वर्षों से सेवा दे रहे हैं. 23 वर्षों से सेवा देने के बाद भी एक ही पद पर है, ना क्रमोन्नति मिली है, ना ही पदोन्नति. जिसे लेकर वेतन में विसंगति व्याप्त हो चुकी है और इस विसंगति के खिलाफ हम अपनी मांग को लेकर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन और मौन रैली निकाला गया. प्रदेश भर के 1 लाख 9 हजार सहायक शिक्षक मौन रैली में शामिल हुए. अपनी मांग को लेकर अंत तक यह संघर्ष जारी रखेंगे.

loading...

Related Articles

loading...
Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।