‘घड़ियाली आंसू’ पर रमन सिंह का कांग्रेस को जवाब, सरकार गठन को 18 महीने हो गए, एक भी नियुक्ति नहीं होने से बेरोजगार हताश, निराश और नाराज

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पर 1.50 लाख करोड़ रुपये खर्च का अनुमान

रायपुर। मुख्यमंत्री ने 60 हजार शिक्षकों और 10 हजार पुलिस की भर्ती करने की बात कही थी. सरकार गठन को 18 से 20 महीने हो चुके हैं, लेकिन अब तक एक भी नियुक्ति नहीं हुई है. सरकार ने सभी नियुक्तियों पर बैन लगा दिया है. इससे बेरोजगार हताश ,निराश और नाराज है. यह बात पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मीडिया से चर्चा में कही.

Close Button

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के संबंध में जानकारी देने के लिए बुलाई गई प्रेस कांफ्रेंस में डॉ.रमन सिंह ने मुख्यमंत्री निवास के सामने युवक हरदेव के खुदकुशी करने की घटना को लेकर भाजपा पर घड़ियाली आंसू बहाने के कांग्रेस के आरोप पर कहा कि हमारी संवेदनशीलता अगर उन्हें घड़ियाली आंसू लग रहे है, तो हम क्या कह सकते हैं.

सरकार के अर्थव्यवस्था मजबूत होने के दावे पर डॉ. सिंह ने कहा कि शराब से पैसा आ रहा है. जीडीपी भी अधिक दिख रही है तो ये गरीब, बेरोजगारों और किसानों के किया वादा क्यों पूरा नहीं कर रहे हैं. वहीं संसदीय सचिव बनाए जाने के सवाल पर कहा कि हमारे जिनजिन निर्णय को असंवैधानिक कहते हुए विरोध किया था, वो सभी काम अब ये कर रहे हैं. ये इस बात को साबित करता है कि हमने संवैधानिक रूप से निर्णय लिया था.

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस ने दी भाजपा को नसीहत, युवाओं के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करे, घटी है प्रदेश में बेरोजगारी दर…

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।