शिक्षाकर्मी हमारे ही बच्चे,उनके साथ नहीं होगा अन्याय-डॉ रमन सिंह,लल्लूराम डॉट कॉम ने शिक्षाकर्मियों के मामले पर सीएम से की खास बातचीत

 

रायपुर.मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश में काम कर रहे 1 लाख 80 हजार शिक्षाकर्मी हमारे ही बच्चें हैं और उनकी मांगों पर सरकार गंभीरता से ध्यान दे रही है.सीएम ने लल्लूराम डॉट कॉम से खास बातचीत में कहा कि शिक्षाकर्मियों ने निशर्त आंदोलन वापस करने की जो पहल की है,वह स्वागत योग्य है और इसके लिये मैं उनके प्रति धन्यवाद व्यक्त करता हूं.उन्होनें कहा कि शिक्षाकर्मियों के काम पर लौटने की घोषणा करने के बाद मैंने आज ही दो काम तत्काल करने के आदेश जारी कर दिये हैं.

Advertisement
Patakha ban Ad

सीएम ने कहा कि शिक्षाकर्मियों की मांग पर विचार करने के लिये सरकार ने दो कमेटी बनाने का आदेश जारी कर दिया है.पहली कमेटी मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बनाई गई है,जो संविलियन की मांग पर विचार-विमर्श कर तीन महीने में अपनी रिपोर्ट देगी.वहीं शिक्षाकर्मियों की दूसरी मांगों का अध्ययन करने के लिये पंचायत विभाग के एसीएस आर.पी.मंडल और वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन की कमेटी बनाई गई है,जो अन्य मांगों का अध्ययन कर अपनी रिपोर्ट शासन को देगी.इन दोनों कमेटियों के अध्ययन के निष्कर्ष के आधार पर शिक्षाकर्मियों के हितों के लिये सरकार निर्णय लेगी.सीएम ने कहा कि उन्होनें सभी शिक्षाकर्मियों की रिहाई करने और बर्खास्त शिक्षाकर्मियों को बहाल करने के निर्देश भी जारी कर दिये हैं.उन्होनें कहा कि आंदोलन समाप्ति के बाद स्कूलों की व्यवस्था सामान्य करने के लिये सभी जरूरी कदम उठाने के दिशानिर्देश जारी कर दिये गयें हैं.

ADVERTISEMENT
cg-samvad-small Ad
Advertisement
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।