SDM, तहसीदार और कृषि उपज मंडी की टीम ने की अवैध कोचियों पर कार्रवाई , 8 लोगों से तीन वाहन समेत 1988 बोरी धान किया जब्त

प्रदीप गुप्ता ,कवर्धा। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू होते ही कोचिए भी सक्रिय हो जाते हैं. हर साल खरीदी केंद्रों में अवैध रूप से धान खपाई जाती है. कोचियो द्वारा अवैध धान बिक्री पर लगाम कसने बोडला एसडीएम और कृषि उपज मंडी की टीम एवं तहसीलदार रेंगाखार के द्वारा संयुक्त कार्रवाई गुरूवार को की गई. जांच के दौरान बिना किसी दस्तावेज/अनुज्ञप्ति के अवैध धान का भंडारण/परिवहन करने के कारण चिल्फी, सिवनीकला, शीतलपानी, झलमला, रेंगाखार में कार्रवाई की गई. जहां गोदाम सील किये गए हैं.

Close Button

औचक निरीक्षण में 8 कोचियों को पकड़ा गया है. जिनके पास से 1988 बोरी (800 क्विंटल लगभग) धान, जब्त किया गया है. मौके से तीन वाहनों को भी जब्त किया गया है.

कोचियों के द्वारा किसानों से कम कीमत पर धान खरीदी कर अधिक रुपयों व बोनस की लालच में धान उपार्जन केन्द्रों पर धान बेचते थे तथा धान बेचने के लिए पहचान वाले किसान देखकर उन्हीं के खाते पर अधिक धान बेचे जाते थे जिन मामलों को संज्ञान में लेते हुए बोडला एसडीएम और कृषि उपज मंडी की टीम एवं तहसीलदार रेंगाखार की संयुक्त कार्रवाई की गई.

वहीं एसडीएम विपुल गुप्ता के आदेश पर नेवारी में कार्रवाई की गई,  नेवारी में कल गुरूवार शाम जैन व्यापारी की दुकान से 90 बोरी धान को जप्त किया गया. वहीं  स्वराज मासदा में लगभग 90 बोरी अवैध धान परिवहन करते पकड़ा गया है यानी कुल 70 क्विंटल धान कल शाम को पकड़ा है. फ़ूड स्पेक्टर जानकी शरण कुशवाह ने कहा कि स्वराज मासदा गाड़ी को थाना भेज दिया है और व्यापारी से और पूछताछ कर रहे है इसकी जानकारी कलेक्टर अवनीश शरण को दे दी गई है.  उनके आदेश के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

वहीं इस मामले पर कलेक्टर अवनीश शरण ने कहा है कि जिले में लगातार चेकिंग जारी रहेगी. और जिन किसानों ने पंजीयन गलत ढंग से कराया है उनके ऊपर भी कार्रवाई की जाएगी. नहीं तो अभी से जानकारी दे दें. जिला प्रशासन धान की अवैध परिवहन रोकने के लिए जिले के बार्डर में बेरियाल लगाकर चेकिंग किया जा रहा है.

 

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।