Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

लखीमपुर खीरी. नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों को रविवार को दो कार ने रौंद दी, जिससे 8 लोगों की मौत हो गई. किसानों ने यूपी के लखीमपुर खीरी में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे पर गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगाया है. आक्रोशित भीड़ ने 2 कारों में आग लगा दी. किसानों ने प्रशासन के सामने चार मांगें रखी है. पहली मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त किया जाए, अजय मिश्रा के बेटे को गिरफ्तार किया जाए, तीसरी मृतकों के परिजन को एक-एक करोड़ का मुआवजा मिले और चौथी मृतकों के परिजन को सरकारी नौकरी मिले.

उत्‍तर प्रदेश में सियासत अचानक गरम हो गई है प्रदेश में अगले साल चुनाव से पहले लखीमपुर कि घटना ने विपक्ष को भाजपा सरकार को घेरने का मौका दे दिया है. आज लखीमपुर खीरी में विपक्षी दलों के नेताओं का जमावड़ा देखने को मिल सकता है. केंद्र सरकार के तीन कृषि कानून के विरोध में किसानों का प्रदर्शन पहले ही तीखा हो गया था, अब इसे और धार मिलने के आसार हैं. हर दल राजनीतिक रोटियां सेंकने की फिराक में है. प्रियंंका गांधी वाड्रा, राहुल गांधी, भूपेश बघेल, अखिलेश यादव, चंद्रशेखर आजाद रावण, सतीश मिश्रा, राकेश टिकैत समेत विपक्षी दलों के तमाम नेताओं ने लखीमपुर खीरी पहुंचने का ऐलान किया है.

किसानों पर चढ़ा दी गई गाड़ी

यूपी के लखीमपुर खीरी में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के वहां पहुंचने से पहले ही रविवार वहां बड़ा बवाल हो गया. लखीमपुर खीरी में तिकुनिया के पास किसान, केशव प्रसाद मौर्य को काले झंडे दिखाने के लिए खड़े हो गए. इस दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं और किसानों के बीच बवाल शुरू हो गया और देखते ही देखते यह हिंसक हो गया. आरोप है कि इस दौरान किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी गई. वहीं गुस्साए किसानों ने गाड़ियों में आग लगा दी. इस पूरे मामले पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव समेत विपक्ष के तमाम नेताओं ने सरकार पर हमला बोला है. अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि कृषि कानूनों का शांतिपूर्ण विरोध कर रहे किसानों को भाजपा सरकार के गृह राज्यमंत्री के पुत्र द्वारा, गाड़ी से रौंदना घोर अमानवीय और क्रूर कृत्य है. प्रदेश भाजपाइयों का ज़ुल्म अब और नहीं सहेगा. यही हाल रहा तो उप्र में भाजपाई न गाड़ी से चल पाएंगे, न उतर पाएंगे.

किसान अपनी मांगों को लेकर कर रहे प्रदर्शन

किसान अपनी मांगों को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर किसान डटे हुए हैं तो वहीं यूपी में हर जिले में किसान महा पंचायत का आयोजन किया जा रहा है. लखीमपुर खीरी मामले में मायावती, प्रियंका गांधी वाड्रा, राहुल गांधी सहित विपक्ष के तमाम बड़े नेताओं ने प्रतिक्रिया दी है. प्रियंका गांधी ने आज लखीमपुर खीरी जाने का ऐलान किया है.

किसान नेता राकेश टिकैत बोले

वहीं इस पूरी घटना पर भारतीय किसान यूनियन के नेता व प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि किसानों के ऊपर गाड़ियां चढ़ाई गईं. फायरिंग की गई है और कई लोगों के मरने की खबर है. राकेश टिकैत ने कहा कि वो लखीमपुर के लिए निकल रहे हैं.

सभी इंटरनेट सेवा बंद

मामला बढ़ता देख सीएम योगी आदित्याथ के आदेश पर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार मौके के लिए रवाना कर दिया था. बताया जा रहा है कि पीएसी की 3 कम्पनी भी मौके पर भेज दी गई है वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद अपने आगामी कार्यक्रम रद्द कर गोरखपुर से लखनऊ लौट आएं वही लखीमपुर मे देर रात से सभी इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

14 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में किसानों समेत आठ की मौत के मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष समेत 14 लोगों के खिलाफ तिकुनिया पुलिस थाने में हत्या साजिश रचने और बलवे के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है. किसानों ने प्रशासन के सामने 4 बड़ी मांग रखी है. मंत्री अजय मिश्रा को बर्खास्त किया जाए, अजय मिश्रा के बेटे को गिरफ्तार किया जाए, मृतकों के परिजन को 1-1 करोड़ का मुआवजा मिले और मृतकों के परिजन को सरकारी नौकरी मिले.

अखिलेश यादव को हाउस अरेस्ट

खीरी तिकुनिया जा रहे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को हाउस अरेस्ट किया गया है. कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को पुलिस टीमों ने सीतापुर के पास से हिरासत में ले लिया. प्रियंका गांधी की पुलिस अधिकारियों के साथ तीखी नोकझोंक हुई उन्होंने कहा कि वह कोई अपराध करने नहीं जा रही हैं उन्हें तिकुनिया जाने से क्यों रोका जा रहा है. पीड़ित परिवारों से मिलने और उनका दर्द साझा करने के लिए जा रही हैं. लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें आगे नहीं जाने दिया गया.