जहर खाने वाली महिला कांस्टेबल ने रोते हुए बनाया वीडियो, ASP स्टेनो पर लगाया गंभीर आरोप

हमीरपुर. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार महिलाओं के लिए नए-नए कानून लेकर आती है, लेकिन सरकार के नुमाइंदे मिशन शक्ति अभियान जैसे अभियानों को पलीता लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले से निकल कर सामने आया है. जहां पुलिस विभाग की महिला कांस्टेबल ने विभाग के ही एएसपी स्टेनो से प्रातड़ित होकर जहरीला पदार्थ पी लिया था. जिसके बाद हालत गंभीर होने के चलते महिला आरक्षी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरी उपचार के बाद ठीक होते ही महिला आरक्षी प्रिया चौधरी ने एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल कर दिया. वायरल वीडियो मिशन शक्ति अभियान फेज 3 जैसे अभियानों की साफ तौर से पोल खोल रहा है.

वहीं पूरे मामले को लेकर महिला आरक्षी ने एडीजी प्रयागराज और आईजी बांदा को पत्र लिखकर बताया कि कई महिला आरक्षियों के स्थानांतरण किए गए हैं. जिनमें कई के स्थानांतरण रोक दिए गए हैं, लेकिन उनकी बात नहीं सुनी गई. आरोप लगाया पुलिस कार्यालय में महिला आरक्षी सवित्री चार सालों से तैनात हैं. लेकिन उनकी ड्यूटी बाहर नहीं लगाई गई. उनके पति एएसपी के स्टेनो हैं. आरोप लगाया कि अपनी समस्या बताने पर स्टेनो द्वारा बदतमीजी की जाती है. वहां जो भी ड्यूटी लगाई जाती है, उनमें पैसे लिए जाते हैं. जितनी भी महिला कर्मियों के स्थानांतरण हुए वह बिना आधार के रोके गए हैं. वहीं पूरे ही प्रकरण पर आईजी के सत्यनारायण ने मामले को संज्ञान में लेकर बांदा सदर क्षेत्राधिकारी को जांच सौंपी है.

इसे भी पढ़ें – ट्रांसफर से परेशान महिला सिपाही ने खाया जहर, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।