whatsapp

‘अच्छा हुआ मारकर फेंक दिया’: कर्ज के बोझ ने बनाया हत्यारा, MP के 4 युवकों ने CG में खूनी वारदात को दिया अंजाम, गाड़ी लूटकर ड्राइवर को सुलाई मौत की नींद, ऐसे खुला कत्ल का राज…

जीपीएम, गौरव जैन. जिले से बेहद गंभीर मामला सामने आया है. जहां एक अज्ञात पुरुष का शव रजमेलान नाला के पास मिला है. जिसके दोनों हाथ पीछे बंधे हुए थे और सिर को पत्थर से बेरहमी से कुचल दिया था. जिसके बाद जांच में जुटी पुलिस ने घटना के 24 घंटे के भीतर ही 4 आरोपी सहित एक नाबालिग को गिफ्तार किया है.

बता दें कि, 4 आरोपी सहित एक नाबालिग ने अपने कर्ज के बोझ को उतारने के लिए लूट की वारदात को अंजाम देने का प्लान बनाया. जिसके बाद चारों रीवा घूमने गए और प्लान को फॉलो करते हुए सीधी जाने के लिए एक बोलेरो वाले से लिफ्ट ली. जिसके बाद शातिरों ने पेशाब करने के बहाने चोरहट बाईपास के पास गाड़ी को रुकवाई और फिर जब ड्राइवर गाड़ी पर बैठने लगा तो उसे खींचकर गाड़ी के बीच में बैठाकर आरोपियों ने जान से मारने की धमकी दी. जिसके बाद डर के मारे वह चुप बैठ गया. आरोपियों ने ड्राइवर की जेब से 3000 रुपये निकालकर डीजल डलवाकर वहां से शहडोल होते हुए पेण्ड्रा आए. पेण्ड्रा से पाली जाते समय जंगल में गाड़ी रोड किनारे खड़ी कर ड्राइवर को उतार कर उसका दोनों हाथ सफेद गमछा से बांधकर सिर पर पत्थर पटक कर बेरहमी से हत्या कर दी.

ऐसे खुला हत्या का राज
हत्या की वारदात के बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी थी. इसी क्रम में पुलिस जांच करते हुए इलाके के एक चेक पोस्ट पर पहुंचकर आरोपियों के बारे में पता करने की कोशिश की. तभी वहां मौजूद चेकपोस्ट के एक कर्मचारी ने बताया कि, 4 लड़के किसी से फोन पर बात कर रहे थे औऱ कह रहे थे कि, अच्छा हुआ मारकर फेंक दिया. जिसके बाद पुलिस ने सुराग के जरिए पिंकू सिंह चौहान, प्रांशु सिंह चौहान निवासी सीधी (मप्र) और जय सिंह उर्फ सर्वेश सिंह

Related Articles

Back to top button