whatsapp

जिलाध्यक्ष ने भरी महफिल में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को ही थमाया इस्तीफा, बृजलाल खाबरी बोले- पार्टी तो डूब ही रही है और क्या डुबाएंगे?

अमेठी। गांधी परिवार का गढ़ कहे जाने वाले उत्तर प्रदेश के अमेठी में कांग्रेस की अंतर्कलह सामने आई है. प्रदेश में निकाय चुनाव और लोकसभा चुनाव भी करीब हैं, लेकिन कांग्रेस नेताओं के आपसी विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. इसका ताजा उदाहरण बुधवार को देखने मिला. जब मंच पर ही प्रदेश अध्यक्ष बृजलाल खाबरी की मौजूदगी में जिला अध्यक्ष प्रदीप सिंघल ने खुलेआम इस्तीफा दे दिया.

पूरा मामला बीते बुधवार का है. कांग्रेस की अंदरूनी कलह अब खुलकर बाहर आने लगी है. सैकड़ों कार्यकर्ताओं के सामने कांग्रेस जिला अध्यक्ष प्रदीप सिंघल ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के सामने जमकर अपनी भड़ास निकाली और मंच पर ही अपना इस्तीफा सौंप दिया. जो अब चर्चा का विषय बना हुआ है.

दरअसल, निकाय चुनाव की तैयारियां को लेकर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बृजलाल खाबरी अमेठी दौरे पर आए थे. इस दौरान केंद्रीय कार्यालय में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया. जहां प्रदीप सिंघल ने मंच पर बोलते हुए पार्टी के लिए किए गए अपने एक-एक काम बताए. उन्होंने कहा कि पार्टी हित में इतने कार्य करने के बाद भी PCC सदस्य बनाने में उनकी राय तक नहीं ली गई. जब सब ऊपर से ही तय होना है तो मेरा काम क्या? जिसके बाद उन्होंने जेब से अपना इस्तीफा निकाला और प्रदेश अध्यक्ष के सामने रख दिया.

बता दें कि भरी महफिल में जिला अध्यक्ष के इस्तीफे से प्रदेश अध्यक्ष समेत कांग्रेस नेता सकते में आ गए. हालांकि, किसी तरह से जिला अध्यक्ष को शांत कराया गया. लेकिन सिंघल के बाद बृजलाल खाबरी ने मंच से हमारे अंदर सिर्फ एक दूसरे पर वार करने की आदत बनी हुई है. उन्होंने कहा कि अगर हमने अपनी इन आदतों में सुधार नहीं लाया तो कांग्रेस तो डूब ही रही है और क्या डुबाएंगे.

छतीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक 
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें
दिल्ली की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
English में खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Back to top button