इंदौर गोलीकांड मामले में अर्जुन ठाकुर ने गृहमंत्री को लिखा पत्र, इन आरोपियों के खिलाफ भी की कार्रवाई की मांग

हेमंत शर्मा, इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में बुधवार को गोलीकांड मामले में शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को एक पत्र लिखा है. मामले में पुलिस ने एके सिंह और पिंटू भाटिया को हमले में आरोपी नहीं बनाया गया. जिसको लेकर फरियादी ने गृहमंत्री को पत्र लिखकर इन दोनों आरोपियों के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है.

फरियादी अर्जुन ठाकुर ने पत्र में लिखा कि जब वह अपने साथियों मोहन ठाकुर, मोहित आहूजा, रिंकू यादव वह बबलू तोमर के साथ सिंडिकेट के विजयनगर क्षेत्र स्थित ऑफिस में बैठा था, तभी एके सिंह पिंटू भाटिया हेमू ठाकुर पिंटू ठाकुर और सतीश भाऊ कुछ लोगों के साथ वहां आए और फायरिंग शुरू कर दी. सिंह और भाटिया दोनों अपने साथ आए लोगों के साथ गोली चला रहे थे और उनका कहना था कि किसी भी हालत में अर्जुन बच नहीं पाए. ‌ इसी दौरान चिंटू ठाकुर ने जो गोली चलाई वह उसे लगी और वह घायल होकर नीचे गिर पड़ा. ‌ इसके बाद सिंह और भाटिया, हेमू एवं पिंटू ठाकुर को लेकर वहां से भाग निकले.

अर्जुन ठाकुर का कहना है कि पूरे मामले में पुलिस ने हेमू ठाकुर, चिंटू ठाकुर और सतीश भाऊ को आरोपी बनाया है. जबकि एके सिंह और पिंटू भाटिया पर पुलिस ने आरोप दर्ज नहीं किया. फरियादी ने इसी मामले को लेकर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा को पत्र लिखकर कहा कि घटना के मास्टर माइंड एके सिंह और पिंटू भाटिया है, जिसके कहने पर चिंटू ठाकुर ने मुझे गोली मारी. ऐसे में इन आरोपियों को भी मामले में आरोपी बनाकर न्याय की मांग की है.

इसे भी पढ़ें ः टीके का टोटा: MP में 2 फीसदी से ज्यादा बर्बाद हुई वैक्सीन, इस जिले में चौकाने वाला आंकड़ा आया सामने

 

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।