CG CORONA BREAKING: विदेश से छत्तीसगढ़ लौटे 76 यात्री, ट्रैसिंग के लिए पुलिस की दहलीज पर पहुंचा स्वास्थ्य अमला, SSP ने कहा…

शिवम मिश्रा, रायपुर। कोरोना का नए वैरिएंट धीरे-धीरे दुनिया के कई देशों में पहुंच चुका है. भारत में भी इस वैरिएंट के 2 मरीज मिले हैं, जिससे देशभर में अलर्ट जारी कर दिया गया है. इसी बीच एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है. छत्तीसगढ़ में भी विदेश से करीब 76 यात्री लौटे हैं, जिसमें से 20 यात्रियों का कोई पता नहीं है. मोबाइल फोन बंद आ रहा है.

छत्तीसगढ़ में ओमिक्रोन के नए वैरिएंट के मद्देनजर अलर्ट जारी किया गया है, लेकिन चिंता की बात यह है कि विदेश से लौटे कुछ मरीजों की ट्रैसिंग नहीं हो पाई है, जिससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. फिलहाल प्रशासन इन लोगों की जांच में जुट गया है. इसके अलवा स्वास्थ्य अमला ट्रैसिंग के लिए पुलिस की दहलीज पर पहुंचा है. मदद की अपील की है.

मिली जानकारी के मुताबिक रायपुर एयरपोर्ट प्रबंधन 79 में से केवल 56 यात्रियों को ही ट्रेस कर पाया है. एयरपोर्ट प्रबंधन ने स्वास्थ्य विभाग को लिस्ट सौंप दिया है. 20 यात्रियों का मोबाइल नंबर बंद आ रहा है. यात्रियों को ट्रेस करने स्वास्थ्य विभाग ने रायपुर पुलिस से मदद मांगी है.

जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मीरा बघेल ने बताया कि कुछ यात्री विदेश से रायपुर लौटे थे. एयरपोर्ट प्रबंधन करीबन 56 लोगों को ट्रेस कर लिया है, लेकिन शेष 20 लोगों को ट्रेस नहीं कर पाए हैं. इसमें कुछ यात्रियों का मोबाइल नंबर बंद आ रहा है. कुछ यात्री दिल्ली पर ही थे, जिसके कारण ट्रेस नहीं हो पाए. हमारे पास लिस्ट आते ही हमने पुलिस को भी सूचना दी थी.

डॉ. मीरा बघेल ने बताया कि अब धीरे-धीरे यात्री ट्रेस हो रहें है. कुछ यात्री होटल पर रुके हैं. हमने अपनी लोकल टीम को उनके मोनिटरिंग पर लगा दिया है. यात्रियों की संख्या बहुत कम है. इसीलिए उन्हें मॉनिटरिंग करने में आसानी हो रही है. जिला प्रशासन की तैयारी पूरी है. आने वाले दिनों में सभी का आरटीपीसीआर टेस्ट करवा कर गाइडलाइंस के अनुरूप क्वारेंटाइन पर रखा जाएगा.

वहीं रायपुर एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि हमें कुछ यात्रियों की लिस्ट मिली थी. लगभग सभी को ट्रेस किया जा चुका है.

इसे भी पढे़ं : सुरक्षाकर्मी की काटी जा रही छुट्टियां, विरोध में परिवार के साथ बैठा धरने पर, जानिए क्या है मामला

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!