75वें जन्मदिन पर 75 करोड़ का तोहफा: कमलनाथ-नकुलनाथ ने डेढ़ लाख बच्चों को उपलब्ध कराया आईडी और पासवर्ड, अब होगी निशुल्क ऑनलाइन पढ़ाई

शरद पाठक,छिंदवाड़ा। कोरोना संक्रमण के चलते तेजी से देश, प्रदेश और जिले में ऑनलाइन शिक्षा प्राप्त करने का चलन बढ़ा है. अभिभावक भी बच्चों को बाहर नहीं भेजना चाहते हैं. कोरोना संक्रमण के दौरान जिले के अभिभावकों ने बच्चों की पढ़ाई के लिए महंगी कीमतों पर ऑनलाइन एजुकेशन पोर्टल से आईडी और पासवर्ड खरीदकर एकेडमिक पढ़ाई पूरी करने के साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी वीडियो के माध्यम से करानी शुरू कर दी, लेकिन यह पढ़ाई बहुत महंगी होती है. इसलिए कई अभिभावक इस पढ़ाई को जारी नहीं रख पा रहे थे. इसे देखते हुए छिंदवाड़ा के बच्चों के लिए नकुल-कमलनाथ के प्रयासों से 75 करोड़ रुपए कीमत के आईडी और पासवर्ड बच्चों को निशुल्क उपलब्ध कराए जा रही है. रिलायंस-एम्बाइब बेंगलुरु के सहयोग से आज योजना का शुभारंभ किया गया.

जिले के हर जरूरतमंद बच्चे को प्रतियोगी परीक्षाओं में आगे बढ़ाने के लिए नकुलनाथ और कमलनाथ के प्रयासों से छिंदवाड़ा जिले के कक्षा 6वीं से 12वीं तक के बच्चों और विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे जेईई, नीट, बैंक, रेलवे एवं एसएससी की तैयारी करने वाले डेढ़ लाख विद्यार्थियों को 75 करोड़ रुपए के निशुल्क आईडी और पासवर्ड उपलब्ध कराए जा रहे हैं. जिसकी मदद से बच्चे अपने मोबाइल और लैपटॉप पर ही पढ़ाई कर सकेंगे.

VIDEO: भोपाल में NSUI के कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, कई घायल और दर्जनों कार्यकर्ता हिरासत में, कमलनाथ बोले- यह सरकार का तानाशाही रवैया

आईडी और पासवर्ड उपलब्ध कराने और अन्य जानकारी साझा करने के लिए आज राजीव भवन में एक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया. बाल कांग्रेस के प्रभारी कपिल मिश्रा और जिला कौशल विकास समन्वयक आतिश ठाकरे ने बताया कि ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफार्म आईडी और पासवर्ड जिले के डेढ़ लाख बच्चों को कमलनाथ के 75वें जन्मदिवस के अवसर पर एक वर्ष के लिए दिया गया, जो की आगामी 18 नवंबर 2022 तक वैध होगा. पिछले साल भी जिले के विद्यार्थियों को जेईई और नीट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी सोनी कम्प्यूटर एजुकेशन, एम्बाइब के सहयोग से निशुल्क करवाई गई थी. जिसमें नीट में 16 और जेईई में 11 विद्यार्थियों ने सफलता प्राप्त की थी.

मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद नकुलनाथ के प्रयासों से छिंदवाड़ा एक बार फिर देश का ऐसा पहला जिला बन चुका है, जहां डेढ़ लाख बच्चों को ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म की 75 करोड़ रुपए की निशुल्क आईडी और पासवर्ड मिलेगा. जिसकी मदद से बच्चे अपने मोबाइल और लैपटॉप पर ही पढ़ाई पूरी कर सकेंगे.

कक्षा 6वीं से 12वीं तक की पढ़ाई, एनसीईआरटी, मप्र बोर्ड, सीबीएसई, आईसीईएसई, जेईई, नीट, बिटसेट, बैंक, रेलवे, एसएससी, डिफेन्स, इन्शुरन्स, टीचिंग, सीटीईटी, यूजीसी नेट, एनआरए, अन्य प्रतियोगी परीक्षा की हिन्दी और अंग्रेजी माध्यम से जिले के 1 लाख 50 हजार विद्यार्थियों को निशुल्क तैयारी करने का अवसर मिलेगा. कमलनाथ के 75वें जन्मदिवस पर आयोजित कार्यक्रम में इसकी शुरुआत धनेन्द्र देशमुख नेशनल सेल्स हेड रिलायंस सब्सिडरी- एम्बाइब, बेंगलुरु के सहयोग से की गई है. जिसकी कुल कीमत 75 करोड़ रुपए हैं.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।