सुंदर पिचाई का हुआ प्रमोशन… Google संस्थापक सर्गेई ब्रिन की लेंगे जगह, जाने उनके संघर्ष की पूरी कहानी

सुंदर पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किए गए हैं. बता दें कि अभी तक यह जिम्मेदारी गूगल के सह संस्थापक सर्गेई ब्रिन के पास थी.

नई दिल्ली. दुनिया की सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनी गूगल (Google) के भारतीय मूल के सीईओ सुंदर पिचाई का प्रमोशन हो गया है. सुंदर पिचाई अब गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किए गए हैं. बता दें कि अभी तक यह जिम्मेदारी गूगल के सह संस्थापक सर्गेई ब्रिन के पास थी.

बता दें कि गूगल ने 2015 में अपने कंपनी स्वरूप में बड़ा बदलाव करते हुए अल्फाबेट की स्थापना की थी. अल्फाबेट विभिन्न कंपनियों का एक समूह है. अल्फाबेट गूगल को वायमो (स्वचालित कार) वेरिली (जैव विज्ञान) कैलिको (बायोटेक आर एंड डी) साइडवॉक लैब (शहरी नवोन्मेष) और लून (गुब्बारे की सहायता से ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट उपलब्धता) जैसे दूसरे संस्थानों से अलग करती है. ये सभी गूगल के मूल व्यवसाय नहीं हैं.

नए बदलाव के बाद सर्गेई ब्रिन और गूगल के दूसरे सहसंस्थापक लैरी पेज कंपनी में सहसंस्थापक, शेयरधारक और अल्फाबेट के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में बने रहेंगे. दूसरी ओर पिचाई अब गूगल और अल्फाबेट दोनों के सीईओ बन गए हैं. पिचाई इसके साथ ही अल्फाबेट के बोर्ड आफ डायरेक्टर भी बने रहेंगे.

11 काम की बातें

  1. सीईओ सुंदर पिचाई का जन्म 10 जून 1972 को तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था.
  2. पिचाई ने अपनी शुरुआ​ती पढ़ाई चेन्नई से की.
  3. उन्होंने आईआईटी खड़गपुर से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की.
  4. अपने बैच में सिल्वर मेडल हासिल किया था.
  5. अमेरिका में सुंदर ने एमएस की पढ़ाई स्टैनडफोर्ड यूनिवर्सिटी से की और वॉर्टन यूनिवर्सिटी से एमबीए किया.
  6.  पिचाई को पेन्सिलवानिया यूनिवर्सिटी में साइबेल स्कॉलर के नाम से जाना जाता था.
  7. सुंदर पिचाई ने 2004 में गूगल ज्वाइन किया था. उस समय वे प्रोडक्ट और  इनोवेशन ऑफिसर थे.
  8. सुंदर सीनियर वाइस प्रेसीडेंट (एंड्रॉइड, क्रोम और ऐप्स डिविजन) रह चुके हैं.
  9. 2015 में पिचाई को गूगल के सह संस्थापक लैरी पेज की जगह गूगल का नया सीईओ बनाया गया था.
  10. 2018 अक्टूबर में उन्हें गूगल का सीनियर वीपी (प्रोडक्ट चीफ) बनाया गया था.
  11. एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम के डेवलपमेंट और 2008 में लांच हुए गूगल क्रोम में उनकी बड़ी भूमिका रही है.

 

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।