whatsapp

SECL प्रबंधन की बड़ी लापरवाहीः कटर मशीन की चपेट में आने से ठेका श्रमिक की मौत, प्रत्यक्षदर्शी कर्मचारियों ने मामला दबाने का लगाया आरोप

अजयारविंद नामदेव, शहडोल। जिले में संचालित एसईसीएल (SECL) कोयला खदान में प्रबंधन की लापरवाही से एक ठेका श्रमिक की दर्दनाक मौत का मामला सामने आया है। इस मामले में प्रबंधन द्वारा खदान के भीतर हुई मौत को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। जब प्रबंधन का यही रवैया है तो ठेका कंपनी की भूमिका का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ठेका श्रमिक के साथ काम करने वाले प्रत्यक्षदर्शी कर्मचारियों ने प्रबंधन की लापरवाही से मौत की बात कही है।

Read More: भोपाल में गुंडागर्दी का LIVE VIDEO: जमीन विवाद में महिलाओं से की जमकर मारपीट, आरोपियों को पुलिस का खुला संरक्षण

जानकारी के अनुसार खदान के भीतर प्राइवेट मजदूर (ठेका श्रमिक) टीकम सिंह की कटर मशीन के चपेट में आने से मौत हो गई। उसकी मौत काम के दौरान खदान के भीतर हुई है। प्रबंधन और ठेका कंपनी मुआवजा ना देना पड़े इसलिए अपनी गलती न मानकर श्रमिक की गलती बताकर मामले को दबाने का प्रयास कर रही है।

Read More: देर रात तक नशे में झूमा BHOPAL: बॉटम क्लब में 100 युवक-युवतियां छलकाते मिले जाम, छापा मारने पहुंचे TI से लड़की ने की बहस, VIDEO VIRAL

बताया जाता है कि मृतक श्रमिक बंगवार भूमिगत खदान ( अंडर ग्राउंड माइंस) कोयला प्रोडक्शन का काम कर रही जेएमएस कंपनी का कर्मचारी था। यह भी बताया जाता है कि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं होने से मशीन की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई। घटना धनपुरी थानां क्षेत्र अन्तर्गत SECL बंगवार अंडर ग्राउंड कोल माइंस की है। जानकारी दलजीत सिंह (प्रत्यक्षदर्शी कर्मचारी) ने दी।

Read More : बिलासपुर के कानन पेंडारी से आई शेरनी “परी” के 3 शावकों का आज हुआ दीदार: पिंजरे से खुले बाड़े में निकले, ग्वालियर चिड़ियाघर में शेरों की संख्या 8 हुई

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

Related Articles

Back to top button