Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

शरद पाठक,छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस के चलते हालात बिगड़ने की स्थिति में हैं. कोरोना रोज नया रिकॉर्ड बना रहा है. प्रदेश भर में नाइट कर्फ्यू लागू है. लेकिन छिंदवाड़ा में नेताजी को अपने जन्मदिन मनाने की पड़ी है. पुलिस की मौजूदगी में रात 12 बजे के बाद डीजे की साउंड में जश्न मनाया गया. कोरोना को न्योता दिया गया. बीजेपी के नेता ही कोरोना गाइडलाइन का खुला उल्लघंन कर रहे हैं. अब पुलिस इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है, क्योंकि पार्टी में पुलिस भी मौजूद थी.

दरअसल छिंदवाड़ा जिले में लगातार कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं. जिला और पुलिस प्रशासन ने सख्ती से पालन कराने का दावा कर रही है. जिले में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तकनाइट कर्फ्यू भी लगाया गया है, लेकिन अक्सर इन प्रतिबंधों का खुलकर मखोल बनाया जा रहा है. कोरोना की तीसरी लहर की संभावना, ओमिक्रोन और डेल्टा कोरोना के मरीज निकलने के बाद भी जनता अभी तक जागरूक नहीं हुई है.

बैठक में अफसरों से नाराज हुए CM शिवराज: कहा- फील्ड अफसर दौरों पर क्या करते हैं, कोई सिस्टम हो तो मुझे दिखाएं, लीपा पोती नहीं चलेगी

डीजे की धुन पर देर रात चलती रही पार्टी

बीता रात बस स्टैंड में देर रात तक बीच सड़क पर जश्न मनाया गया. भाजपा नेता बलराम यादव का जन्मदिन मनाया गया. नाइट कर्फ्यू का उल्लंघन किया गया. 12 बजे के बाद देर रात तक डीजे की धुन पर लोग नाचते दिखे. जश्न मनाते नजर आए. ताज्जुब की बात यह है कि यह सब जश्न यातायात पुलिस की चौकी के बिल्कुल नजदीक हुआ है. जहां पर हर समय पुलिस स्टाफ मौजूद होता है. पुलिस के सामने ही युवक बिना खौफ के जश्न मनाते रहे.

PM मोदी की दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप: CM शिवराज बोले- मैं हैरान हूं, राहुल-सोनिया राजनीतिक विद्वेष में जल उठे, प्रधानमंत्री की जिंदगी से खेल गए

जन्मदिन के जश्न में पुलिसकर्मी भी मौजूद

जानकारी के अनुसार लोग भाजपा के युवा नेता बलराम यादव का जन्मदिन मना रहे थे. जश्न में पुलिस चौकी का एक पुलिसकर्मी भी मौजूद था. पुलिस की इस लापरवाही ने नाइट कर्फ्यू पर ही प्रश्नचिन्ह खड़े कर दिया है. जश्न में करीब 50 से 60 लोग मौजूद थे. कार में गाने बजाकर डांस कर रहे थे. मानो नाइट कर्फ्यू में नेताजी को जश्न मनाने की छूट है. इन्हें कोरोना ही नहीं होगा. या फिर कहें कि इनके लिए कोई नियम ही नहीं है. अब पुलिस भी इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus